Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

यूपी फतह के बाद अब सबकी नजरें दिल्ली के MCD चुनाव पर है। जहां बीजेपी विजय रथ पर सवार है वहीं केजरीवाल की आप सरकार गोवा और पंजाब में हार के बाद सदमें में आ गई है। दिल्ली नगर निगम चुनाव बीजेपी के लिए नाक का सवाल बन चुका है साथ ही वह इस चुनाव के माध्यम से विधानसभा चुनाव के हार का बदला लेना चाहेगी। अगर बीजेपी यहां हारती है तो यूपी का मजा दिल्ली में किरकीरा हो सकता है।

दूसरी तरफ यूपी में सीएम पद की शपथ के बाद पुलिस प्रशासन पूरी तरह एक्शन में आ गया है। जिसका परिणाम है कि राज्य में कई जगहों पर स्लॉटर हाउसों पर स्थानिय प्रशासन ने ताला मार दिया है। जिसकी शुरुआत शामली और इलाहाबाद में कर्यवाही के दौरान शुरु की गई थी।

इसी खास पेशकस को लेकर एपीएन के स्टूडियों में आज यूपी के बाद अब दिल्ली की बारी और बूचड़खानों पर लगे ताले से क्या लोगों के रोजी रोटी पर पड़ेगा असर इस मुद्दे  पर चर्चा की गई। जिसमें दुष्यंत शर्मा (नेता, कांग्रेस), रजत मेहरा (अर्थशास्त्री), गोविंद पंत राजू (सलाहकार संपादक APN) ऋचा पाण्डेय (राष्ट्रीय प्रवक्ता, आप), तेजिंदर पाल सिंह बग्गा (प्रवक्ता, दिल्ली बीजेपी), चंद्रभूषण पाण्डेय (प्रवक्ता, बीजेपी), और रविदास मेहरोत्रा (पूर्व मंत्री, यूपी सरकार) जैसे विशेषज्ञों ने अपने मत को रखा। शो का संचालन एंकर अनंत त्यागी ने किया।

ऋचा पाण्डेय ने बताया कि यह चुनाव बीजेपी और आप पार्टी की जंग न होकर बीजेपी के अंतर्कलह की जंग है। रही बात MCD चुनाव की तो हमारी 260 सीटों डिक्लेअर हो चुकी है। दिल्ली में आम आदमी पार्टी के अलावा ऐसी कोई भी पार्टी नहीं है जो विकास के बारे में बात कर रही हो या विकास कर के दिखा रही हो, हमने बिजली, पानी, सीवर, जलबोर्ड पर कार्य किया।

दुष्यंत शर्मा ने बताया कि ‘आप’ जिस प्रकार अपने वादों के साथ दिल्ली में आई थी, मानो जैसे उनके पास कोई अलादिन का चिराग हो लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। अब तो दिल्ली में कांग्रेस ही आएगी क्योंकि किसी ने भी दिल्लीवासियों की उम्मीदों को पूरा नहीं किया है।

रजत मेहरा ने बताया कि यूपी और उत्तराखंड में जीत के बाद बीजेपी के हौसले बुलंद हो गए है। बीजेपी नहीं चाहेगी की MCD और NDMC पर काबिज होने के बाद उनकी आपसी कलह का फायदा अन्य कोई पार्टी उठाए।

गोविंद पंत राजू ने बताया कि सभी पार्टियां पूरे जोश में हैं,और आप पार्टी के लिए यह बेहद बड़ा मौका है अगर पार्टी इसमें जीत हासिल करती है तो दिल्ली निकाय चुनाव और दिल्ली चुनाव उनके हाथों में होगा। दूसरी तरफ उन्होंने कहा कि यूपी में सरकार का यह एक्शन ही है कि अवैध बूचड़खानों पर ताला लग रहा है।

तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता पर तंज कसते हुए कहा कि कई लोगो ने हमे चूहा, गधा, काकरोच से संबोधित किया है और इन्होंने हमें दिमक कहा है। जब किसी भी पार्टी ने इतना अहंकार किया है तो उसका पतन भी शुरु हो गया है। जिसका जवाब दिल्ली की जनता MCD चुनाव में देगी।

चंद्रभूषण पाण्डेय का मत था कि अवैध कारखानों के लिए सरकार कार्यवाही कर रही है और यांत्रिक कारखानों के लिए संकल्प पत्र में जैसा लिखा है उसके लिए सरकार स्पष्ट नीति जल्द लेकर आएगी।

रविदास मेहरोत्रा ने कहा कि भारत सरकार सबसे पहले गौ मांस निर्यात पर रोक लगाए। एक तरफ केन्द्र सरकार गौ मांस के निर्यात के लिए लाइसेंस प्रदान कर रही है और दूसरी तरफ उसपर रोक लगाने की बात कर रही है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.