Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

सरकारी और निजी बैंकों की तरफ से दिए जाने वाला नए साल का तोहफा अब जनता को बहुत भारी पड़ने वाला है। अब तक जो बैंक जनता के लिए शुभचिंतक माने जाते थे, अब वही बैंक जनता की गाढ़ी कमाई पर ढाका डालने की तैयारी में जुट चुके हैं। बता दे, 20 जनवरी से सभी बैंक अपनी तमाम शाखाओं में दी जाने वाली उन सभी सेवाओं के लिए पैसे वसूलेंगे, जो अब तक फ्री में दी जाती थी। इन सुविधाओं में पैसा निकालने, जमा करने, केवाईसी, मोबाइल नंबर बदलवाने, नेट बैंकिंग, पता बदलवाने, पिन और पासवर्ड बदलवाने और चेक बुक के लिए आवेदन करने जैसी सुविधाएं शामिल हैं।

दूसरी ब्रांच से ट्रांजेक्शन पर लगेगा जीएसटी

इन सबके अलावा, अगर आप अपने बैंक शाखा के अलावा उसी बैंक की किसी दूसरी शाखा में जाकर बैंकिंग सेवा लेते हैं तो भी आपको अतिरिक्त शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा। जानकारी के लिए बता दे, हर बैंकिंग लेनदेन पर आपको शुल्क के साथ-साथ जीएसटी भी चुकाना होगा, यह शुल्क आपके खाते से काट लिया जाएगा। हालांकि सरकार के इस आदेश से पहले तक संबंधित बैंक के अन्य शाखा से लेनदेन करने पर किसी भी तरह का शुल्क नहीं लिया जाता था।

आरबीआई ने जारी किए आदेश

इस बारे में बैंक अधिकारियों का कहना है, नए शुल्क जारी किए जाने को लेकर आंतरिक आदेश मिल चुके हैं। आरबीआई के निर्देशों का पालन करना, सभी बैंकों का कर्तव्य हैं, जिससें वे किसी भी हाल में पीछे नहीं हट सकते हैं। इसके अलावा संबंधित बैंक का बोर्ड ही सभी सेवाओं पर लगने वाले शुल्क का फैसला लेता है। बोर्ड की मंजूरी के बाद ही अंतिम फैसला लिया जाता है।

बैंकर्स ने बताया सराहनीय कदम

इस बारे में बैंकर्स का कहना है, बैंकों के इस कदम से देशभर के सभी खाताधारक प्रभावित तो होंगे, लेकिन फिर भी सरकार द्वारा उठाया गया ये कदम एकदम ठीक है। खाताधारक अगर अपनी होम ब्रांच के अतिरिक्त किसी अन्य ब्रांच से बैंकिंग सेवाएं लेता है तो उसे शुल्क का निर्वाहन करना ही होगा।

ऑनलाइन बैंकिंग को बढ़ावा

एक अन्य अधिकारी ने इस बारे में अपनी राय रखते हुए बताया, “इस कदम से ऑनलाइन बैंकिंग को बढ़ावा मिलेगा और समय के साथ चेक और डिमांड ड्राफ्ट भी अप्रासंगिक हो जाएंगे।” एटीएम और कियोस्क मशीनों से पासबुक अपडेशन और पैसों का लेनदेन अब भी निशुल्क किया जा सकेगा।

जनता की जेब होगी हल्की

सरकार के इस फैसले का सबसे बुरा असर उन व्यापारियों पर पड़ेगा, जो हर दिन लाखों करोड़ों का कैश ट्रांजेक्शन करते हैं। अगर बैंक से लेन-देन करने के लिए व्यापारी को अतिरिक्त भुगतान करना पड़ेगा, तो इसका सीधा असर आम जनता पर भी पड़ेगा। व्यापारी, सामानों के दाम बढ़ा सकते हैं, जिस वजह से महंगाई को बढ़ावा मिलेगा। जनता पहले ही भारी भरकम करों, कम ब्याज दरों और बढ़ती कीमतों से परेशान है।

पढ़े नए बैंकिंग नियम:

  • सेल्फ चेक के लिए 50, 000 तक की रकम निकलवाने पर 10 रुपए अतिरिक्त चार्ज देना होगा।
  • कोई तीसरा व्यक्ति आपके बैंक अकाउंट से सिर्फ 10 हजार रुपए तक ही निकाल पाएंगा।
  • सेविंग अकाउंट में अधिकतम 2 लाख तक कैश जमा करवा सकेंगे।
  • सेविंग अकाउंट मेंरोजाना 50 हजार तक जमा कराना फ्री रहेगा, लेकिन इसके बाद अगर आप अकाउंट में पैसे जमा करवाते है तो आपको प्रति हजार 50 रुपए चार्ज देना होगा।
  • इंटरनेट बैकिंग के लिए 25 रुपए अतिरिक्त चार्ज लगेगा।
  • पिन और पासवर्ड लेने या बदलने के लिए 10 रुपए चुकाने होंगे।
Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.