Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

फेस्टिवल सीजन की शुरुआत होने वाली है। आगामी त्योहार जैसे दीवाली, दशहरा को देखते हुए बाजारों ने अपनी कमर कस ली है। पिछली दीवाली आपको तो याद ही होगा कि किस प्रकार से लोग चीनी उत्पादों का बहिष्कार कर रहे थे। देश के विभिन्न हिस्सों से चीनी सामनों की बिक्री को लेकर विरोध प्रदर्शन की खबरे सामने आ रही थी। उस दौरान चीनी उत्पादों में काफी गिरावट आया था। जिससे व्यापारियों को काफी नुकासान हुआ था। ठीक उसी प्रकार से कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार भी चीनी उत्पादों की मांग कम हो सकती है। इसका मुख्य कारण कुछ और नहीं बल्कि डोकलाम विवाद है। जिस विवाद से दोनों देशों के रिश्तों में कड़वाहट पैदा हुई।

हाल ही में हुए भारत और चीन के रिश्तों में कड़वाहट का असर दिल्ली के बाजारों पर भी नजर आ रहा है।  जैसा कि अक्सर देखा गया है कि दीवाली के मौके पर दिल्ली के बाजार चीनी उत्पादों से भरे होते हैं। जिसे लोग बड़ी ही शिद्दत से खरीद भी रहे होते हैं।  लेकिन इस बार यहां पर चीन के उत्पादों का वर्चस्व कम हो सकता है। दिल्ली के प्रमुख बाजारों के व्यापारियों का कहना है कि इस बार दीवाली पर बिकने वाले चीनी सामान का ऑर्डर पिछले सालों के मुकाबले कम दिया गया है।

आप ट्रेड विंग के कन्वीनर बृजेश गोयल का कहना है कि डोकलाम विवाद के चलते चीन से होने वाले सामान के आयात पर असर हुआ है और दिवाली से पहले चीन से होने वाले आयात में बड़ी कमी आई है। उनका कहना है कि भारत और चीन के बीच अभी लगभग 71.5 अरब डॉलर का द्विपक्षीय व्यापार होता है और पिछले 15 सालों में दोनों देशों के बीच व्यापार लगभग 24 गुना बढ़ा है।

जैसे ही त्योहार सिर पर होता था तो बाजार चीन से आयातित समान रोशनी की लड़ियां, गिफ्ट आइटम, देवी-देवताओं की मूर्तियां, पटाखे, दीये आदि आइटमों से भर जाता था। लेकिन इस बार इसकी संख्या में कमी आ सकती है। व्यापारियों  द्वारा अनुमान लगाया जा रहा है कि पिछले साल की अपेक्षाकृत इस साल चीनी सामानों की बिक्री में लगभग 50 फीसदी कम होगा। ऐसे में चीनी उत्पादों को लेकर कारोबारियों में एक डर का माहौल भी बना है। जिसके चलते व्यापारियों ने इस बार चीनी उत्पादों का ऑर्डर कम कर दिया है। इसका दूसरा कारण यह भी है कि उपभोक्ता भी पहले की तरह चीन से आयातित सामानों को खरीदने में दिलचस्पी नहीं ले रहा  है। पिछली दीवाली पर भी व्यापारियों के चीनी सामान का काफी स्टॉक बिना बिके रह गया था। इस बार पुराने स्टॉक को ही डिस्काउंट पर बेचा जा रहा है। व्यापारियों के अनुसार इस बार फेस्टिवल सीजन में चीन के सामान की बिक्री पिछले सालों की तुलना में 50 फीसदी से भी कम रहने का अनुमान है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.