Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मूडीज ने साल 2019-20 में भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास दर 7.3 फीसदी रहने का अनुमान जताया है। क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज ने कहा कि वैश्विक विनिर्माण व्यापार की विकास दर सुस्त पड़ने से अन्य प्रमुख एशियाई अर्थव्यवस्थाओं और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं की तुलना में भारत के सामने अपेक्षाकृत कम जोखिम है।

एजेंसी ने 2019 और 2020 के लिये तिमाही वैश्विक सूक्ष्म परिदृश्य में कहा, हम दोनों साल के दौरान भारतीय अर्थव्यवस्था के करीब 7.30 फीसदी की दर से वृद्धि करने का अनुमान करते हैं। मूडीज आर्थिक वृद्धि के पूर्वानुमान का आकलन कैलेंडर इयर के आधार पर करता है।

हालांकि भारत आर्थिक वृद्धि की गणना वित्त वर्ष के आधार पर करता है। उसने कहा कि 2019-20 के अंतरिम बजट में किसानों के लिये डायरेक्ट कैश ट्रांसफर कार्यक्रम और मध्यम वर्ग को टैक्स राहत की घोषणा से जीडीपी की विकास दर करीब 0.45 फीसदी तेज होगी।

मूडीज ने कहा, इन कदमों से राजकोषीय नुकसान के बाद भी आने वाले समय में खपत बढ़ने से आर्थिक विकास दर को समर्थन मिलेगा. भारत में इस साल चुनाव से पहले सरकार के खर्च की घोषणा से निकट भविष्य की आर्थिक वृद्धि को समर्थन मिलेगा।

उसने कहा कि रिजर्व बैंक के पिछले साल कुछ सख्ती के बाद मौजूदा मौद्रिक नीति का रुख बरकरार रखने में सक्षम रहने का अनुमान है। मूडीज ने बैंकिंग सेक्टर के बारे में कहा कि कुल मिलाकर बैंकिंग प्रणाली में सुधार हो रहा है लेकिन अब भी यह अर्थव्यवस्था पर बोझ बना हुआ है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.