Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश का पहला ई रिक्शा चार्जिंग स्टेशन मेरठ में बन गया है। पश्चिमाञ्चल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड द्वारा शुरू किये गए इस स्टेशन का उद्घाटन आज पीवीवीएनएल के एम डी अभिषेक प्रकाश ने किया। नो प्रॉफिट नो लोस पर शुरू किये गए इस स्टेशन से गरीब ई रिक्शा वालों को लाभ मिलेगा। पहले एक ई रिक्शा 100 रूपये में चार्ज होता था, जबकि स्टेशन पर महज 60 रूपये में चार्ज होगा। इसके अलावा इससे बिजली चोरी से सरकारी खजाने को लाखों की चपत लगती थी, लेकिन प्रदेश में सत्ता परिवर्तन होते ही अधिकारियों ने बिजली चोरी रोकने की पूरी कोशिश शुरू की है। काफी हद तक इसमें सफलता मिलती भी दिख रही है। इसी कड़ी में पश्चिमाञ्चल विद्युत वितरण ने यह नई पहल की है।

Open country's first e-rickshaw charging station in Meerutआपको बता दें कि पश्चिमाञ्चल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड ने मेरठ शहर में देश का सबसे पहला ई रिक्शा चार्जिंग स्टेशन  लगाया है। ये स्टेशन चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय रोड पर लगाया गया है। फ़िलहाल इस तरह का स्टेशन देश के किसी और शहर में नही है। मेरठ से इसकी शुरुआत कर दी गई है और जल्द ही इसका विस्तार और जिलों में भी किया जाएगा। अधिकारियों की माने तो ई-रिक्शा कहीं न कहीं चोरी की बिजली से चार्ज हुआ करते हैं। स्टेशन खुलने से न केवल विभाग को फायदा होगा बल्कि गरीब ई-रिक्शा वालों को भी फायदा होगा। पहले एक ई रिक्शा 100 रूपये में चार्ज होता था, जबकि अब इस स्टेशन पर महज 60 रूपये में चार्ज होगा। साथ ही कुछ समय के बाद स्टेशन से रिक्शा चार्ज करने को अनिवार्य कर दिया जाएगा, और ऐसा न करने पर रिक्शा चालकों पर कार्यवाही भी की जा सकती है। इस स्टेशन का उद्घाटन करते हुए पश्चिमाञ्चल विद्युत वितरण के एम डी ने बताया कि इससे सरकारी राजस्व बढेगा। देश में यह अपने तरह का पहला प्रयोग है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.