Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

New Delhi: रिलायंस की सालाना आम बैठक में कल बहुत से अहम फैसलों की घोषणा की गई। इसी के साथ कंपनी ने 18 महीनों में शून्य कर्ज तक पहुंचन का लक्ष्य भी रखा और इस बात का वादा किया कि वो शेयरहोल्डरस को उच्च लाभांश और प्रीयोडिक बोनस जारी करके रिवार्ड भी देगी। रिलायंस की इस घोषणा के बाद मंगलवार को बीते एक दशक में उसके शेयर में एक दिन में सबसे बड़ी वृद्धि देखी गई।

मुकेश अंबानी ने अगले महीने कट-प्राइस इंटरनेस सर्विस लॉन्च करने की भी घोषणा की, इसी के साथ सब्सक्रिप्शन प्लान के साथ लाइफ टाइम के लिए फ्री वॉयस कॉल, टेलीविजन, मूवी स्ट्रीमिंग और या तक की टीवी सेट के ऑफर की भी घोषणा। जिसके बाद से टेलिकॉम मार्केट में रूकावट आने का खतरा मंडराने लगा है।

इन घोषणाओं के बाद रिलायंस के शेयर में 12 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गई जो कि 14 जनवरी, 2009 से अब तक की सबसे बड़ी उछाल है। जिसके बाद से रिलायंस अब फिर से भारत की सबसे ज्यादा कीमत वाली कंपनी बनने के करीब पहुंच गई है। वर्तमान में इस ऊंचाई पर टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज है।

लेकिन इन घोषणाओं के बाद टेलिकॉम बाजार की दिगज कंपनियों भारती एयरटेल में 4 प्रतिशत की गिरावट आई वहीं वोडाफोन आईडिया में 5 प्रतिशत की। जैसे ही घोषणाएं की गई उसके बाद से ही टेलिकॉम बाजार की कंपनियों को इस बात की चिंता सताने लगी कि जो उनके साथ तीन साल पहले हुआ था कहीं वो दोबार फिर ना हो जाएं। जियो अपने फ्री और सस्ते डाटा प्लान के साथ मात्र तीन सालों में ही सब्सक्राइबर के मामले में भारत का नंबर 1 का ऑपरेटर बन गया।

अंबानी ने कंपनी की 42 वीं आम सालाना बैठक में कहा कि रिलायंस के प्रीमियम जियोफाइबर ब्राडबेंड सर्विस के ग्राहक फिल्म रिलीज वाले दिन ही अपने घरों में बैठकर कर फिल्म देख सकेंगे। इस खबर के बाद मल्टीपलैक्स चैन ऑपरेटर पीवीआर के शेयर जहां 8 प्रतिशत लुढ़के वहीं Inox Leisure INOX.NS के शेयर 10 प्रतिशत गिर गए। डिश टीवी इंडिया के शेयर भी नीचे आ गए।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.