Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती का विरोध देशभर में थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस फिल्म को समाज के ठेकेदारों और कट्टरपंथियों ने अपने निशानें पर लिया हुआ है। जिस नारी के सम्मान को लेकर राजपूत पूरे देश में विरोध कर रहें हैं अब वो उसी नारी की नाक और गर्दन काटने पर उतारू हो गए हैं।

कोटा में करणी सेना ने जहां फिल्म की एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण को नाक काटने की धमकी दी तो वहीं मेरठ में क्षत्रिय समाज के ठाकुर अभिषेक सोम ने दीपिका और भंसाली की गर्दन काटने पर 5 करोड़ रुपए के इनाम का एलान कर दिया है।

मेरठ के क्षत्रिय समाज के ठाकुर अभिषेक सोम ने फिल्म का विरोध करते हुए कहा कि दीपिका और भंसाली की गर्दन काटने वाले को क्षत्रिय समाज की ओर से 5 करोड़ रूपये की धनराशि दी जाएगी। धमकी भरे लहजे में अभिषेक ने कहा कि अगर ये फिल्म वापस नहीं ली गई, तो अंजाम बुरा होगा।  इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि दीपिका को नरेंद्र मोदी भी नहीं बचा सकते हैं, उन्होंने मांग की है कि इस फिल्म पर रोक लगाई जाए।

आपको बता दें कि ठाकुर अभिषेक सोम क्षत्रिय समाज से ताल्लुक रखते हैं और ठाकुर चौबीसी से जुड़े हुए हैं। उन्होंने ये भी दावा किया है कि वो समाजवादी पार्टी से भी जुड़े हैं।

इससे पहले फिल्म का विरोध कर रही राजपूत करणी सेना ने दीपिका पादुकोण को नाक काटने की धमकी दी है। करणी सेना के नेता लोकेंद्र नाथ ने कहा, ”राम सीता के साथ लक्ष्मण वनवास गए थे, उन्होंने ये कहा नहीं था, लेकिन जब जरूरत पड़ी तो उन्होंने शूर्पनखा की नाक काट दी थी। इसी तरह अगर रावण को समझ ना आए तो शूर्पनखा की नाक काट देने की हैसियत आज भी लक्ष्मण की है।” करणी सेना ने फिल्म की रिलीज डेट 1 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया है।

लोकेंद्र नाथ ने आगे कहा, “दीपिका बेटी की तरह है लेकिन अब किसी को समझाया नहीं जायेगा। सरकार को इस पर रोक लगा देनी चाहिए। अहिंसा जरूरी है, लेकिन अब हिंसा मजबूरी है।

आपको बता दें कि फिल्म का विरोध कर रहे लोगों का आरोप है कि फिल्म ‘पद्मावती’ के जरिए रानी पद्मावती का गलत तरीके से चित्रण किया जा रहा है। उनका कहना है कि फिल्म में इतिहास को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। आरोप ये भी है कि फिल्म में रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच प्रेम प्रसंग दिखाया गया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.