Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मिस्टर इंडिया, राम लखन और साजन चले ससुराल जैसी बेहतरीन फिल्मों से दर्शकों की ज़िन्दगी में हास्य का तड़का लगाने वाले जाने-माने डायरेक्टर सतीश कौशिक एक बार फिर एक नई फिल्म बनाने जा रहे हैं। वह जिस फिल्म की कहानी पर काम कर रहे हैं, वह कोई साधारण फिल्म नहीं है। इस बार वह उत्तर प्रदेश के एक्टिविस्ट लाल बिहारी मृतक के जीवन पर फिल्म बनाने जा रहे हैं। ये फिल्म लाल बिहारी द्वारा स्वयं लिखित पुस्तक ‘मृतक’ की कहानी पर आधारित होगी। सिर्फ इतना ही नहीं जब उनसे पूछा गया कि क्या वह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जीवन पर भी फिल्म बना सकते हैं? तो उन्होंने कहा- क्यों नहीं? उनका जीवन बहुत दिलचस्प है, तो जरूर फिल्म बननी चाहिए। लोग भी इस फिल्म को जरूर देखना पसंद करेंगे।

सहयोगी चैनल से बातचीत में सतीश कौशिक ने बताया, कि उन्होंने मृतक कहानी पर आधारित फिल्म की स्क्रिप्ट पूरी कर ली है और फिल्म की शूटिंग 10 सितंबर से 30 अक्टूबर के बीच की जाएगी। इस फिल्म की खास बात यह होगी कि वह इस फिल्म में यूपी के ही लोगों को काम करने का मौका देंगे। सूत्रों के मुताबिक़, फिल्म की शूटिंग बाराबंकी, मलीहाबाद, सीतापुर और लखनऊ में होगी। सतीश ने बातचीत में बताया, कि आजमगढ़ के लाल बिहारी मृतक की जिंदगी पर फिल्म बनाना उनका सपना था, जो अब पूरा होने जा रहा है।

कौन है लाल बिहारी मृतक? 

लाल बिहार का नाम मृतक कैसे पड़ा, इसके पीछे एक बेहद ही दिलचस्प कहानी जुड़ी हुई है। दरअसल, लाल बिहारी को 1975 और 1994 के बीच मृतक घोषित कर दिया गया था। जिंदा होते हुए भी जब उन्हें मृत घोषित किया गया तब उन्होंने खुद ही अपनी लड़ाई लड़ने का फैसला किया। उन्होंने इंडियन ब्यूरोक्रेसी के खिलाफ 19 साल तक लड़ाई लड़ी और तब जाके वह खुद को जिंदा साबित कर पाए। इस बीच उन्होंने अपने नाम के साथ मृतक जोड़ लिया और मृतक संघ की स्थापना भी की। मृतक संघ यानी उत्तर प्रदेश एसोसिएशन ऑफ डेड पीपल की स्थापना के पीछे उनका उद्देश्य था इस तरह के अन्य मामलों को सामने लाना।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.