Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर पिछले कुछ दिनों से लगातार बहस जारी है। कुछ दिनों पहले ही अपने एक इंटरव्यू में कंगना ने इसका जिक्र किया था और यह बहस एक बार फिर से लाइम-लाइट में आ गई है। अब इस पर करीना कपूर ने भी अपने विचार वयक्त किए हैं। करीना कपूर ने इस पर कंगना की बात का जवाब देते हुए कहा कि  अगर परिवारवाद के चलते रणबीर कपूर बॉलीवुड में आया है तो रणवीर सिंह भी तो है और अगर आलिया भट्ट है तो कंगना रनौत भी तो है।

करीना ने कहा कि नेपोटिज्म तो हर फिल्ड में है। उन्होंने कहा कि यह कहां नहीं है, चाहे बिजनेस हो या राजनीति सब जगह यह है। करीना ने कहा कि बिजनेस फैमिलीज में बेटा बाप के बिजनेस को टेकओवर करता है। नेता का बेटा भी उसकी जगह मंत्री बनता है। लेकिन वहां किसी को परिवारवाद नहीं दिखता, सिर्फ बॉलीवुड के लिए ही ऐसी बहस क्यो?

आगे उन्होंने कहा कि इस इंडस्ट्री में कई ऐसे बड़ी हस्तियों के बच्चे हैं जिन्हें वो स्टारडम नहीं मिली जो उनके पैरेंट्स को मिली। तो मुझे समझ नहीं आता कि लोग फिर इसके बारे में क्यों बात करते हैं। मूलरूप से ये इंडस्ट्री ऐसी निर्मम जगह है जहां आप सिर्फ अपने टैलेंट के बलबूते टिक सकते हैं। अगर ऐसा नहीं होता तो देश में कई बड़े सितारों के बच्चे नंबर वन एक्टर में शुमार किए जाते।”

आपको बता दें कि करीना कपूर खान इस मैगजीन के कवर पेज पर नज़र आने वाली हैं। इसके साथ इस संस्करण में उन्होंने फैशन से लेकर नेपोटिज्म तक कई मुद्दों पर खुलकर अपनी राय रखा है।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए करीना ने कहा, ”अगर इंडस्ट्री में रणबीर कपूर हैं तो यहां रणवीर सिंह भी हैं। इसलिए नेपोटिज्म अब ओवररेटेड हो गया है। यहां पर सिर्फ आपका टैलेंट ही आपको टिका सकता है। यही वजह है कि कंगना रनौत को एक बेहतरीन अदाकारा के रूप में शुमार किया जाता है और वो इस इंडस्ट्री से नहीं हैं। अगर यहां पर आलिया भट्ट हैं तो कंगना रनौत भी हैं। ये सिर्फ स्टार किड्स के लिए नहीं हैं।”

गौरतलब है कि पिछले दिनों एक्टर सैफ अली खान और वरुण धवन और डायरेक्टर करण जौहर पिछले दिनों ‘नेपोटिज्म रॉक्स’ वाले बयान को लेकर काफी चर्चा में रहे।  हालांकि यह बहस इंडस्ट्री में कोई नई बात नहीं है, लेकिन इस मामले में एक्ट्रेस कंगना रनौत के बेबाक रवैये ने सबको इस बारे में ध्यान आकर्षित करने पर मजबूर कर दिया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.