Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

फिल्म अभिनेता शाहरुख खान  ने मुंबई स्थित अपने आवास पर जन्माष्टमी के पर्व पर दही हंडी फोड़ी, तो  देवबंद के उलेमा भड़क गए। उलेमाओं ने इसे नाजायज और इस्लाम में हराम करार दिया। शाहरुख खान के हिंदुओं के उत्सव मनाने पर उलेमाओं ने ऐतराज जताया है। फतवा ऑन मोबाइल सर्विस के चेयरमैन मुफ्ती अरशद फारूकी ने कहा कि वैसे तो फिल्मी कलाकार का कोई धर्म नहीं होता, लेकिन शाहरुख खान एक सिलेब्रिटी हैं।

इसलिए अभिनेता शाहरुख खान  ध्यान रखना चाहिए कि वे किस धर्म के त्योहार को किस तरह से मना रहे हैं। लेकिन गैर-इस्लामिक त्योहार को अपने घर पर मनाना और उस धर्म की परंपरा का आयोजन करना इस्लाम में सही नहीं है।

देवबंद के उलेमा मौलाना नदीम उल वाजदी ने कहा कि इस्लाम में दूसरे धर्म के उत्सव मनाने की मनाही है। एक मुसलमान का हिंदू पर्व मनाना और उसमें शरीक होना शरीयत के अनुसार गलत है। इस्लाम इस बात की इजाजत नहीं देता कि कोई भी मुसलमान अपने धर पर गैर-इस्लामिक त्योहार मनाए। दही हंडी उत्सव मनाते हुए शाहरुख की तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं।

बता दें, कि हर त्योहार की तरह जन्माष्टमी पर भी शाहरुख के घर के बाहर फैंस जमा हुए थे। शाहरुख ने अपनी छत से न सिर्फ उन्हें बधाई दी, बल्कि बेटे अबराम के साथ मटकी भी फोड़ी। इस दौरान शाहरुख और अबराम के साथ उनकी पत्नी गौरी खान भी मौजूद थीं।

गौरतलब है कि शाहरुख खान बॉलिवुड के उन ऐक्टर्स में से हैं, जो हर त्योहार को बढ़-चढ़कर मनाते हैं। हर साल अपने परिवार के साथ दिवाली मनाते हुए शाहरुख खान की तस्वीरें सामने आती हैं। वहीं, ईद के मौके पर वह अपनी बालकनी से घर के बाहर इकट्ठा हुए फैंस को मुबारकबाद देते हैं। इस बार जन्माष्टमी का त्योहार भी शाहरुख उसी उल्लास के साथ मनाते दिखे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.