Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

बॉलीवुड की मशहूर सिंगर सोना मोहपात्रा को सूफी गाना गाने पर एक फाउंडेशन की तरफ से धमकियां मिली है। जिसकी शिकायत उन्होंने स्थानीय पुलिस थाने में की है। दरअसल, ये धमकियां उनको एक सूफी गाने को स्‍लीवलैस कपड़ों में गाने पर मिली है। सोमवार को मोहपात्रा ने अपने ट्विटर पर कई ट्वीट्स पर इस फाउंडेशन द्वारा दी जा रही धमकियों के बारे में मुंबई पुलिस को बताया। इसके साथ ही उन्होंने पास की पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई है।

मोहपात्रा का कहना है कि मदारिया सूफी फाउंडेशन ने उन्‍हें एक नोटिस भेजकर धमकियां दे रह है कि वह अपना नया वीडियो सभी जगह से हटा लें, क्‍यों वह सूफी फॉर्मेट के हिसाब से सही नहीं है। सोना के अनुसार इस फाउंडेशन को इस बात से एतराज है कि वह अपने इस वीडियो में सूफी गानें में ‘स्‍लीवलैस ड्रेस और शरीर दिखाने वाली डांसर्स’ के साथ नजर आ रही हैं।

मोहपात्रा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मुंबई पुलिस, द मदारिया फाउंडेशन द्वारा भेजे गए नोटिस में दावा किया गया है कि वह सूफी, शांति और वैश्विक भाईचारे के लिए काम करते हैं। मैं आपसे और भारत से यह पूछना चाहती हूं, ‘सिस्‍टरहुड’ (बहनचारा) का क्‍या? आखिर यह जरूरी क्‍यों हैं कि इस समय में महिलाएं ढकी हुई रहें और पब्लिक में डांस और संगीत न गाएं।’

सोना माहपात्रा की शिकायत के बाद मुंबई पुलिस ने उन्‍हें अपना पर्सनल नंबर देने की बात कहते हुए हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।

वहीं दूसरी तरफ फाउंडेशन ने सोना पर सूफी कला को प्रस्‍तुत करने के उनके निर्धारित नियमों को तोड़ने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि वह कोई पीड़ित नहीं है बल्कि अपराधी है।

बता दें कि सोना ने हाल ही में लाल परी मस्तानी एल्बम से ‘तोरी सूरत’ गाना रिलीज किया है। यह सूफी गाना अमरी खुसरो ने निजामुद्दीन औलिया के लिए लिखा था।

सोना महापात्रा का सोशल मीडिया में वायरल हुआ गीत देखिए ...

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.