Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों के हाथों बड़ी कामयाबी लगी है। राज्य के नारायणपुर में 62 नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया है। सरेंडर करने से पहले नक्सलियों ने 51 देसी हथियार भी बस्तर के आईजी विवेकानंद सिन्हा और नारायणपुर के एसपी जितेंद्र शुक्ला के समक्ष सौंप दिए। बता दें कि छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों की ओर से 30 अक्टूबर को किए गए हमले में दो पुलिस कर्मियों समेत दूरदर्शन के एक कैमरामैन की भी मौत हो गई थी।

इस हमले के बारे में डीआईजी पी सुंदरराज ने बताया कि आरनपुर में नक्सलियों ने घात लगाकर हमारे गश्ती दल पर हमला किया। इस हमले में हमारे दो जवान शहीद हो गए जबकि हमले में घायल दूरदर्शन के पत्रकार ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। इस हमले में दो और लोग घायल हुए थे।

पिछले महीने ही गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि देश में लंबे समय से चल रहे नक्सलवाद का दो-तीन सालों में सफाया हो जाएगा। उन्होंने कहा कि वह दिन दूर नहीं जब केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और त्वरित कार्रवाई बल (आरएएफ) के पराक्रम के बलबूते पूरे देश से नक्सलवाद और माओवाद मिट जाएगा। गृहमंत्री ने कहा कि नक्सलवाद पहले देश के 126 जिलों में था, वह अब सिमट कर 10-12 जिलों में रह गया है।

आपको बता दें कि भारत आतंकवाद से सर्वाधिक प्रभावित दुनिया का तीसरा देश है, जबकि देश में सुरक्षा बलों पर कई हमलों को अंजाम देने वाले नक्‍सलियों का संगठन सीपीआई-माओवादी चौथा बड़ा आतंकी संगठन है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.