Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

सुरक्षा कर्मियों को घटिया खाने दिये जाने की शिकायत कर चर्चा में आए बीएसएफ जवान तेज बहादुर के बारे में अब कई बड़े खुलासे हुए हैं। सरकार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि बीएसएफ जवान द्वारा लगाए गए आरोप निराधार है सूत्रों के मुताबिक, बीएसएफ जवान के फेसबुक एकाउंट में 17 फीसदी फ्रेंड पाकिस्तानी हैं। बीएसएफ की खुफिया एजेंसियां इस मामले की गहराई से जांच कर रही हैं। जांच के दैरान मिली जानकारी से पता चला है कि जवान के 500 दोस्त पाकिस्तानी हैं। एजेंसी इस बात से हैरान हैं कि एक ऐसा जवान, जिसकी पोस्टिंग रिमोट एरिया में हैं, उसके फेसबुक पर छह हजार फ्रेंड हैं।

तेज बहादुर यादव द्वारा 9 जनवरी को वीडियो पोस्ट करने के बाद ही उसका पूरा अकाउंट खंगाला गया। अधिकारी इस बात से भी हैरान है कि पाकिस्तान से भी पेज पर कई पोस्ट की गई हैं। पाकिस्तान के लोग तेज बहादुर के विडियोज को #Near_mutiny_in_Indian_Army  हैशटैग लगा कर शेयर कर रहे हैं। जो मामले के गंभीर होने का खुलासा करते हैं।

फेसबुक पर तेज बहादुर के नाम से 40 अकाउंट हैं लेकिन उनमें से 39 फर्जी हैं। अब जांच उस प्रॉक्सी सर्वरों पर की जा रही है, जिनके लिए इन अकाउंट्स का इस्तेमाल हो रहा है। इंटेलिजेंस एजेंसियां इसकी जांच कर रही हैं। सूत्र बताते हैं कि तेज बहादुर के कई फॉलोअर कनाडा, तंजानिया जैसे देशों में हैं।

इससे पहले शुक्रवार को पत्नी की याचिका पर सुनवाई के दौरान दिल्ली हाई कोर्ट अटॉर्नी जनरल से पूछा कि बीएसएफ के अफसर इतने पत्थरदिल और असंवेदनशील क्यों हैं? बीएसएफ जवान की पत्नी के पूछे सवालों का कोई जवाब क्यों नहीं दिया गया? हम आपके नियमों के बीच नहीं आना चाहते, लेकिन हम खौफ के साए में जी रही तेजबहादुर की पत्नी की मन:स्थिति से चिंतित हैं। उनको पति की चिंता है। उनकी शंका दूर कीजिए। इस पर अटॉर्नी जनरल ने कहा कि पत्नी की पति से मुलाकात में हमें कोई समस्या नहीं है। इस पर कोर्ट ने कहा कि हम इस मामले की सुनवाई 15 फरवरी को तय कर रहे हैं, जब तक तेजबहादुर की पत्नी पति से मिलकर लौट आएंगी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.