Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

यूपी में शानदार जीत का जश्न मनाने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह गुजरात की तैयारी में जुट गए है। इस साल के अंत में गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले है। इसी के मद्देनजर गुरुवार को गुजरात विधानसभा सत्र खत्म होने से एक दिन पहले अमित शाह हाजिरी लगाने पहुंचे। अहमदाबाद के नारणपुरा से विधायक अमित शाह जब विधानसभा गेट पहुंचे तो उनका भव्य स्वागत किया गया। उनके स्वागत में कई मंत्री, विधायक और कार्यकर्ता मौजूद थे। विधानसभा सत्र में हिस्सा लेने पहुंचे अमित शाह ने बहस में कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि गुजरात में भी कांग्रेस का सफाया हो जाएगा।

उत्तर प्रदेश समेत चार राज्यों में अपनी सरकार बनाने के बाद भाजपा की गुजरात इकाई ने अमित शाह के स्वागत के लिए साबरमती नदी किनारे विजय विश्वास सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस आयोजन में आने के बाद अमित शाह ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को याद करते हुए कहा कि एक दिन भाजपा के दो सांसद होने पर राजीव गांधी ने कटाक्ष किया था और आज देश में 65% हिस्से में भाजपा का शासन है। शाह ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उनकी आंखों पर इटालियन चश्मा लगा हुआ है।

इसके बाद गुजरात के भाजपा कार्यकर्ताओं में जीत का जोश भरते हुए कहा कि कानपुर में गंगा नदी के किनारे भाजपा कार्यकताओं ने संकल्प लिया था कि यूपी में 300 से ज्यादा सीटों पर हमारी जीत होगी। इसी तरह आज हम सब गुजरात के इस पवित्र साबरमती के तट पर संकल्प लेते है कि गुजरात में इस बार भाजपा को 150 से ज्यादा सीटों पर जीत दिलानी है।

गुजरात चुनाव के दृष्टिकोण से अमित शाह ने अपनी पहली रैली को संबोधित करते हुए कहा कि ”मित्रो नरेंद्र भाई के नेतृत्व में चल रहा भारतीय जनता पार्टी का विजय रथ घूमते-घूमते नवम्बर में गुजरात आने वाला है। मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि जब भाजपा का रथ गुजरात आ रहा है तो क्या भाजपा कार्यकर्ता तैयार हैं. मोदी साहब से कह दूं।” हालांकि गुजरात में अब भी पाटीदार आरक्षण आंदोलन, ठाकोर समाज का आंदोलन और दलित भी सरकार के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। ऐसे में कार्यकर्ताओं में जीत का भरोसा जताना जरूरी लग रहा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.