Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से उनके आवास पर  मातोश्री मुलाकात की। इस मुलाकात के दौरान महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी अमित शाह ठाकरे के साथ थे। यह मुलाकात एक बंद कमरे में हुई और करीब 75 मिनट तक चले इस मुलाकात में दोनों पक्षों ने राष्ट्रपति चुनाव के बारे में चर्चा की।

शाह तीन दिनों के महाराष्ट्र दौरे पर हैं। शिवसेना ने हाल ही में राष्ट्रपति पद के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत और हरित क्रांति के जनक एम एस स्वामीनाथन का नाम सुझाया था। इससे पहले ठाकरे की पार्टी ने बगावती सुर अपनाते हुए कहा था कि राष्ट्रपति चुनाव में वह ‘स्वतंत्र ‘ रास्ता चुन सकती है। हालांकि मोहनभागवत ने राष्‍ट्रपति पद के लिए अपनी दावेदारी को पहले ही खारिज कर दिया है। वहीं दूसरी तरफ एम.एस. स्वामीनाथन की तरफ से अभी कोई औपचारिक बयान नहीं आया है। इसी बीच मेट्रो मैन श्रीधरन ने भी अपने संभावित उम्मीदवारी को ख़ारिज कर दिया।

यह मुलाकात इसलिए अहम हो जाता है कि अभी हाल ही में भाजपा और शिवसेना के राज्य ईकाई के बीच काफी तल्खी दिखाई दी थी। जहां शिवसेना ने भाजपा को मध्यावधि चुनाव की धमकी दी थी वहीं मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने भी खुद को इसके लिए तैयार बताया था। हालांकि पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि अगर मध्यावधि चुनाव होते हैं, तो हम भाग जाएं मैदान सें भागेंगे नहीं अगर हमें लड़ना पड़ेगा तो हम लड़ेंगे और जीतेंगे भी। हालांकि शाह ने यह भी कहा कि राज्य की देवेंद्र फडणवीस सरकार 5 साल पूरे करेगी।

इधर दिल्ली के राजनीतिक गलियारों में भी राष्ट्रपति चुनावों को लेकर गोलबंदी तेज हो गई है। राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर आम राय बनाने के लिए भाजपा की एक समिति ने शुक्रवार को कांग्रेस तथा वाम दलों के शीर्ष नेताओं से मुलाकात की तथा वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी के साथ विचार-विमर्श किया। समिति के दो सदस्यों केंद्रीय मंत्रियों राजनाथ सिंह तथा एम वेंकैया नायडू ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी के साथ ही आडवाणी तथा मुरली मनोहर जैसे वरिष्ठ भाजपा नेताओं से मुलाकात की।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.