Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

केरल में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी और भाजपा के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। दोनों विरोधी पार्टियों में हुई ताज़ी झड़प के बीच कोझिकोड के नदापुरम में संघ कार्यालय के पास देसी बम से हमला हुआ है। इस बम धमाके में संघ के चार कार्यकर्ता घायल हो गए। घायलों की पहचान बाबू, विनेश, सुधीर और सुनील के रूप में हुई है। धमाके के बाद पुलिस ने इस पूरे इलाके को अपने कब्जे में ले लिया और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। इस धमाके के बाद दोनों विरोधियों में तल्खी और बढ़ने की उम्मीद है।

Attack on the union office in kerala

इस धमाके से पहले आरएसएस के सह प्रचार प्रमुख कुंदन चंद्रावत ने मध्यप्रदेश से एक विवादित बयान दिया था। जिसमे केरल के मुख्यमंत्री का सर कलम करने वाले को एक करोड़ रुपये इनाम देने की बात कही गई थी। इस बयान से हालांकि संघ ने अपना पल्ला झाड़ लिया था। संघ कार्यालय पर हुए हमले के कुछ घंटे बाद संघ कार्यालय से करीब 3 किलोमीटर दूर सीपीएम ऑफिस को कुछ अज्ञात लोगों ने आग के हवाले कर दिया। माकपा कार्यालय में आग की घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

कार्यकर्ताओं पर हुए हमले के बाद आरएसएस विचारक राकेश सिन्हा ने आरोप लगाया है कि केरल के मुख्यमंत्री सीपीएम की हिंसा को बढ़ावा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस सरकार के आने के बाद संघ पर हमले बढे हैं। उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्रालय से इस मामले में राज्य सरकार को एडवायजरी जारी करने की मांग भी की है। 

दूसरी तरफ संघ प्रचार के सर कलम करने के बयान पर माकपा के वरिष्ठ नेता सीताराम येचुरी ने संघ पर हमला बोलते हुए कहा कि चंद्रावत की टिप्पणी से आतंकी संगठन के रूप में आरएसएस का असली रंग सामने आया है। येचुरी ने ऐसे बयानों के बावजूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्र सरकार की चुप्पी पर सवाल उठाया।   

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.