Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश के रामपुर से बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा पर आज़म खान के विवादित टिप्प्णी करने के बाद अब बेटे अब्दुल्ला आजम खान भी उसी रास्ते में जाते दिखाई दे रहे हैं। रामपुर में प्रचार के आखिरी दिन अब्दुल्ला खान ने एक रैली के दौरान जया प्रदा पर आपत्तिजनक बयान दे दिया, उन्होंने कहा कहा कि हमें अली और बजरंगबली की जरूरत है, न कि अनारकली की।

अब्दुल्ला ने जया प्रदा का नाम लिए बिना इशारों-इशारों में कहा, ‘हमें अली और बजरंगबली की जरूरत है न कि अनारकली की।’

आपको बता दें कि इससे पहले आजम खान भी जया प्रदा के बॉलीवुड से जुड़े होने की वजह से उन पर कई बार हमलावर हो चुके हैं और उन्हें नाचने-गानेवाली भी बोल चुके हैं।

ये भी पढ़ें:  रामपुर में बोले योगी आदित्यनाथ- आजम खान जैसों के लिए ही बना है एंटी रोमियो स्क्वाड

रामपुर की रैली में अपने बेटे के साथ आजम खान ने कहा, ‘इस वक्त जब सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की छवि खतरे में है तो मैं तो कहीं भी नहीं ठहरता और हमारा क्या होगा। मैं लोगों से लोकतंत्र और हमारे देश के संवैधानिक संस्थाओं की रक्षा करने की अपील करता हूं।’

आजम खान ने आरोप लगाया, ‘रामपुर का स्थानीय प्रशासन बीजेपी उम्मीदवार की मदद करने का पूरा प्रयास कर रहा है। वे लोग एसपी कार्यकर्ताओं के खिलाफ झूठे केस दर्ज कर रहे हैं। जो लोग मेरे समर्थन में हैं, उनके घरों में छापे मारे जा रहे हैं।’

ये भी पढ़ें:  योगी-मायावती के बाद चुनाव आयोग ने आजम खान और मेनका गांधी के चुनाव प्रचार पर लगाई रोक

उन्होंने आगे कहा, ‘प्रशासन के लोग मेरे कार्यकर्ताओं के घरवालों को डरा-धमका रहे हैं। उनका मकसद डर की माहौल पैदा करके मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में वोटिंग फीसदी कम कराना है ताकि बीजेपी उम्मीदवार को सीधे फायदा हो।’

आपको बता दें कि इससे पहले जया प्रदा पर विवादित बयान के चलते आजम खान चौतरफा आलोचनाओं से घिर चुके हैं।  आजम खान के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हुई थी। साथ ही चुनाव आयोग ने प्रचार से 72 घंटे का बैन भी लगा दिया था। रामपुर में तीसरे चरण यानी 23 अप्रैल को चुनाव होना है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.