Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

बरेली जिले के बिथरी चैनपुर थाना क्षेत्र में ट्रक और रोडवेज बस की आमने सामने की टक्कर में आग लगने के कारण 22 लोगों की मौत हो गई।  यह बस नई दिल्ली से गोंडा जा रही थी।  टक्कर इतनी भयंकर थी कि लोगों को बस से निकलने का भी मौका नहीं मिल सका और वह आग की चपेट में आ गए। इस हादसे में ट्रक के आगे का हिस्सा भी जल गया। हादसे के बाद ट्रक ड्राईवर फरार बताया जा रहा है।

22 brunt alive in bus accidentबरेली से जैसे ही गोंडा डिपो की बस रजऊ गांव के पास से गुजर रही थी अचानक ट्रक और सरकारी बस के बीच आमने-सामने की टक्कर हो गई। जिसके चलते बस में भयंकर आग लग गई।  आग लगने से अफरा तफरी मच गई और मौके पर 22 लोगो की झुलसकर मौत हो गई।  मिली जानकारी के अनुसार 15 लोगो का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। घायलों की हालत भी गंभीर बताई जा रही है।  प्रशासन इस मामले पर अपनी नज़र बनाये हुए है। अभी तक मृतकों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

घटना की भयावहता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कुछ पलों में ही आग ने पूरी बस को अपनी चपेट में ले लिया और लोगों को निकलने का मौका तक नहीं मिल सका। कहा जा रहा है की इस दौरान बस का पिछला दरवाजा नहीं खुला अगर पीछे का दरवाजा खुल जाता तो शायद कुछ जिंदगियां बचाई जा सकती थी। घटना का कारण अलग-अलग बताया जा रहा है। कुछ प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक बस गलत साइड में चल रही थी और सामने से आ रहे तेज रफ़्तार ट्रक से टकरा गई। जबकि कुछ लोगों ने बताया कि ट्रक की रफ्तार ज्यादा थी और यह अनियंत्रित होकर बस से टकरा गया। जिसके बाद बस के डीजल टैंक में आग लग गई और देखते ही देखते पूरी बस को अपनी जद में ले लिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे पर दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए की मदद देने की घोषणा की है। इसके अलावा यूपी सरकार ने भी मृतकों के परिजनों को 2 लाख और घायलों को 50 हजार की मदद देने का ऐलान किया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.