Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लोकसभा चुनाव से पूर्व बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक  गठबंधन (राजग) की तीन मार्च को होने वाली रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ ही घटक दल  के सभी बड़े नेता शामिल होंगे। राजग की रैली को लेकर आज घटक दल जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के प्रदेश अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह , लोक  जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रदेश अध्यक्ष एवं पशुपालन मंत्री पशुपति कुमार पारस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष तथा उजियारपुर  के सांसद नित्यानंद राय ने यहां संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि तीन मार्च को पटना के एतिहासिक गांधी मैदान में राजग की रैली होगी। रैली अभूतपर्वू होगी तथा 30-40 वर्षों में इतनी बड़ी रैली कभी नहीं हुयी होगी।

नारायण सिंह ने कहा कि इस रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, बिहार के मुख्यमंत्री एवं जदयू के  राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कुमार और लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केन्द्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता सरंक्षण मंत्री रामविलास पासवान के साथ ही राजग के अन्य बड़े नेता भी शामिल होंगे। कुमार और पासवान की ओर से रैली में शामिल होने की स्वीकृति भी मिल गयी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  मोदी की ओर से भी रैली में उनके शामिल होने की सहमति मिल जायेगी।

जदयू अध्यक्ष ने कहा कि तीन मार्च की रैली में राजग के तीनों घटक दल के कार्यकर्ता, सक्रिय नेता पंचायत स्तर तक जाकर लोगों को आने के लिये प्रचार-प्रसार करेंगे । लोगों को यह बताया जायेगा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश में तथा बिहार के मुख्यमंत्री  कुमार के नेतृत्व में प्रदेश में विकास के कौन-कौन से काम किये गये हैं। उन्होंने कहा कि राजग का आधार काम है और इसी के बल पर लोगों के बीच पार्टी के नेता जायेंगे। रैली में सभी समाज और वर्ग के लोग बड़ी संख्या में बढ़ चढ कर शामिल होंगे।

लोजपा अध्यक्ष पारस ने दावा करते हुए कहा कि तीन मार्च को होने वाली रैली इतनी बड़ी होगी कि लोग अनुमान भी नहीं लगा पायेंगे। तीस से चालीस वर्ष में इतनी बड़ी रैली कभी नहीं हुयी होगी । उन्होंने कहा कि 38 जिलों के अध्यक्ष एक समन्वय समिति बनाकर लोगों को आने के लिये कहेंगे । रैली के दिन पटना का एतिहासिक गांधी मैदान छोटा पड़ जायेगा। उन्होंने दावा किया कि  रैली अभूतपूर्व होगी ।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राय ने कहा कि रैली में कांग्रेस के 55 वर्षों के कार्यकाल का जहां हिसाब मांगा जायेगा वहीं प्रधानमंत्री श्री मोदी के पांच वर्षों के कार्यकाल का हिसाब दिया जायेगा । इसी तरह बिहार में 15 वर्षों तक एक ही परिवार राष्ट्रीय जनता दल (राजद) का सत्ता रहा और इसलिये राजद से हिसाब लिया जायेगा तथा मुख्यमंत्री श्री कुमार के 14 वर्षो का हिसाब दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि रैली के माध्यम से ‘हिसाब लेना और हिसाब देना’ होगा।

राय ने कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन(संप्रग) के घटक दल जहां अफवाह फैलाने का काम  कर रहे हैं वहीं राजग  देश में  विकास की गंगा बहाने में लगी है। कांग्रेस ने 55 वर्षों तक देश और बिहार को ठगने का काम किया है । उन्होंने कहा कि गरीबी मिटाने का वादा तो किया लेकन इस दिशा में काई भी ठोस पहल नहीं की गयी। उन्होंने कहा कि रैली में राजग सरकार की ओर से किये गये कार्यों के ठोस प्रमाण के साथ लोगों को हिसाब दिया जायेगा।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के कार्यकाल में आर्थिक दृष्टिकोण से  देश की काफी प्रगति हुयी है । किसानों के खेतों को पानी के साथ ही 75 पैसे यूनिट की दर से बिजली दी जा रही है । इसी तरह मुद्रा बैंक , सुकन्या योजना के तहत जहां बैंकों में खाता खोला गया वहीं कई कल्याणकारी योजनाएं चलायी जा रही हैं। राय ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और राजद ने बिचौलियों की परम्परा लायी तथा  विकास से लोगों को दूर रखा। पटना साहिब से भाजपा के सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के पार्टी लाईन से हमेशा अलग हटकर बयान दिये जाने के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उचित समय पर फैसला लिया जायेगा।

-साभार, ईएनसी टाईम्स

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.