Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मी टू को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। हर दिन कोई न कोई चर्चित चेहरा इस कैंपेन के शिकंजे में आ रहा है। ऐसे में भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष विजया राहटकर ने मी टू को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि  ‘मी टू’ को लेकर जिन्हें परेशानी है, उन्हें यह कदम बहुत पहले उठाना चाहिए था। जो महिलाएं ‘मी टू’ के तहत अपने दर्द को रख रही हैं, उनके साथ गलत हुआ। लेकिन मेरी बात को अन्यथा न लें। यह वह तबका है जो शिक्षित और अच्छे समाज से जुड़ा है। आप अगर अब अपनी बात रख सकते हो। तो इतना लेट क्यों। इससे पहले  मी टू कैंपेन में घिरे केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर मामले पर मध्य प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष लता एलकर ने विवादास्पद बयान दिया था। महिला पत्रकारों के यौन उत्पीड़न में अकबर का बचाव करते हुए उन्होंने कहा था कि- मैं महिला पत्रकारों को इनोसेंट नहीं मान सकती। गलती दोनों ओर से हुई होगी। इस्तीफे के सवाल पर कहा कि वे इस्तीफा क्यों मांगे , कांग्रेस को लगता है तो वह मांगे ।

विजया राहटकर ने मीडिया से बातचीत में कहा कि स्त्री, पुरुष दोनों ही एक-दूसरे के पूरक हैं। शत्रु भी कह सकते हैं। लेकिन एक साथ चले बिना समाज नहीं चल सकता। राहटकर ने कहा कि सिस्टम पहले भी था। अब भी है। अगर आपको परेशानी सालों पहले हुई तो दवा अब क्यों ले रहे हो। उन्होंने कहा कि बात अगर सशक्तीकरण की है। तो इसमें सिर्फ राजनैतिक महिलाएं शामिल नहीं है। हर महिला को सशक्तीकरण की आवश्यकता है। फिर चाहे वह किसी भी वर्ग की महिला हो। यात्रा के दौरान मैंने देखा कि आज भी महिलाएं हैं जिन्हें शिक्षा रूपी हथियार और कानून रूपी अधिकारों की जानकारी नहीं है। यही हमारे सबसे बड़े हथियार हैं। तो उद्देश्य सिर्फ इतना है कि हमारो राष्ट्र की हर महिला सशक्त बनें।

बता दें कि मी टू कैंपेन का असर भारत में तेजी से हो रहा है। आए दिन कोई न कोई महिला अपनी आप बीती सुना रही है। इस कैंपेन में बॉलीवुड से लेकर खेल तक के कई चर्चित चेहरों का नाम सामने आ चुका है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.