Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

एक तरफ जहां डोकलाम क्षेत्र में सड़क निर्माण को लेकर भारत-चीन आमने-सामने हैं। वहीं एक और सड़क निर्माण को लेकर दोनों देशों में विरोधाभास शुरू हो गया है। लेकिन इस बार बात उलटी है। डोकलाम विवाद में जहां भारत ने चीन के सड़क बनाने की खिलाफत की है वहीं इस नई सड़क परियोजना में भारत सड़क निर्माण करवाना चाहता है लेकिन चीन इस परियोजना के खिलाफ है। जी हां, गृह मंत्रालय की ओर से लद्दाख में पैंगोंग झील के पास सड़क निर्माण को मंजूरी दिए जाने से चीन बौखला गया है। इसी को लेकर चीन ने भारत को धमकी दी है कि जल्द ही उसे इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

चीन का कहना है कि सीमा के जिस पश्चिमी हिस्से पर भारत का सड़क बनाने की योजना है उस क्षेत्र की सीमा निर्धारित नहीं की गई है। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने भारत की इस सड़क परियोजना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सीमा से जुड़े मुद्दे पर भारत की कार्रवाई में विरोधाभास दिखता है। उसके इस कार्रवाई से यह साबित होता है कि वो कहता कुछ और है, करता कुछ और। उन्होंने कहा कि लद्दाख जैसे विवादित क्षेत्र में सड़क निर्माण से इलाके में शांति और सद्भाव बिगड़ेगा। उन्होंने कहा कि भारत के इस कदम से मौजूदा गतिरोध कम नहीं होगा बल्कि डोकलाम विवाद और बढ़ेगा। बता दें कि गृह मंत्रालय ने लद्दाख में मर्सिमिक ला से हॉट स्प्रिंग तक एक खास सड़क निर्माण परियोजना को मंजूरी दे दी है। मार्सिमिक ला पैंगांग झील के उत्‍तर-पश्चिमी सिरे से 20 किमी की दूरी पर स्थित है। इसी जगह हाल ही में चीनी और भारतीय जवानों के बीच पत्‍थरबाजी हुई थी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.