Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आज लड़कियां भले ही हर क्षेत्र में शानदार प्रदर्शन कर अपनी एक नई पहचान बना रही हो, लेकिन आज भी कई जगह ऐसी है जहां उनको उनकी सुंदरता के आधार पर आंका जाता है। एक ऐसा मामला सामने आया है जहां एक पिता अपनी बेटी का अपहरण कर महज इसलिए कहीं छोड़ आया क्योंकि वह सुंदर नहीं थी। यही नहीं उसके गायब होने की झूठी रिपोर्ट भी दर्ज करा दी। जिसकी तफ्तीश करते हुए पुलिस ने शुक्रवार सुबह बच्ची को गाजियाबाद से बरामद कर सौतेले पिता को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल, एक व्यक्ति ने खुद ही अपनी सौतेली का अपहरण करके उसके गुम हो जाने की रिपोर्ट दर्ज करवाई। जांच में पता चला है कि वह व्यक्ति लड़की के सुंदर न होने से दुखी था। साथ ही वह उस पर खर्च होनेवाले पैसे से बचना चाहता था, इसलिए एक दिन खुद ही जाकर उसे एक सुनसान जगह छोड़ आया और घर आकर उसके गुम हो जाने की रिपोर्ट दर्ज करवा दी।

पुलिस अधिकारी अमित किशोर श्रीवास्तव ने बताया कि लखीमपुर खीरी निवासी सीमा जिनका तलाक हो चुका है वह अपनी बेटी के साथ नोएडा में रहती हैं और वहीं एक कंपनी में नौकरी करती हैं। उन्होंने ढाई महीने पहले रबूपुरा कोतवाली एरिया के चक वीरमपुर निवासी लोकेंद्र से शादी कर ली थी।

लोकेंद्र प्रॉपर्टी डीलिंग, किसान क्रेडिट कार्ड दिलवाना जैसे कई छोटे-मोटे काम करता है। उसे मुआवजा भी मिला हुआ है। शादी के बाद लोकेंद्र सीमा और उसकी 9 साल की बेटी को लेकर सेक्टर-36 में किराए पर रहने लगा।

गुरुवार शाम लोकेंद्र ने पुलिस को अपनी 9 साल की सौतेली बेटी के अपहरण की सूचना दी। लोकेंद्र का कहना था कि उसकी बेटी ट्यूशन पढ़ने गई थी लेकिन वापस नहीं लौटी। पुलिस ने लोकेंद्र के मोबाइल की जांच की तो उसी पर शक हुआ। कड़ाई से पूछताछ में उसने खुद ही बेटी के अपहरण करने की बात कबूल कर ली। इसके बाद बच्ची को सिहानी गेट पुलिस थाने से बरामद कर लिया गया।

बच्ची की मां सीमा का कहना है कि शादी से पहले लोकेंद्र ने बच्ची को भी साथ रखने का वादा किया था। बाद में वह बच्ची से नफरत करने लगा। उसका कहना था कि बच्ची काली और बदसूरत है, जिसकी वजह से परिचितों में बेइज्जती होती है। उसने कई बार बच्ची को हॉस्टल या अनाथालय में रखने का दबाव भी डाला, लेकिन वह इसके लिए तैयार नहीं थी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.