Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

डॉन दाऊद इब्राहिम भले ही देश के बाहर छुपकर रहता हो लेकिन देश के अंदर अपनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए वो अपने आदमियों को भेजता रहता है। इसी तरह एक बड़े घटना को अंजाम तक पहुंचाने के लिए उसके आदमी देश में एक बड़ा षड्यंत्र रच रहे थे। वो तो मेहरबानी हो हमारे खुफिया एजेंसियों और पुलिस की कि घटना से पहले ही उसके आदमियों को पकड़ लिया गया। दरअसल, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के तीन सहयोगियों को गिरफ्तार किया है।  पुलिस का कहना है कि तीनों संदिग्ध उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी की हत्या करने की साजिश रच रहे थे। दिल्ली पुलिस ने तीनों आरोपियों को उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से गिरफ्तार किया है। दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल ने सूचना के आधार पर कार्रवाई की और आरिफ, अबरार और सलीम नाम के शख्स को गिरफ्तार किया।

पूछताछ में पता चला है कि तीनों आरोपी देश में सांप्रदायिक सद्भाव भी बिगाड़ना चाहते थे, जिसके लिए उन्हें दाऊद इब्राहिम गैंग से आदेश मिला था। फिलहाल पुलिस संदिग्धों से पूछताछ कर रही है। उनके कब्जे से पिस्टल और कारतूस बरामद हुए हैं। वहीं, सूत्रों ने बताया है कि एक आरोपी कुछ समय पहले दुबई होकर आया है। वहां उसे डी-कंपनी की ओर से एडवांस के तौर पर चार हजार दिरहम (सऊदी अरब की करंसी) दिए गए और बाकी रकम काम होने के बाद देने का वायदा हुआ।

बता दें कि उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी को पहले भी जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है। दरअसल, वो कई मामलो में अपने बयानबाजी के कारण मुसलिम समदायों के आंखों में खटक रहे थे। इसी को लेकर कई संगठनों ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी। बता दें कि रिजवी ने दो माह पहले मुस्लिम कट्टरपंथ के खिलाफ बयान दिया था, जो सुर्खियों में रहा। उन्होंने बताया था कि राम मंदिर निर्माण समिति और शिया वक्फ बोर्ड की तरफ से संयुक्त समझौते की कॉपी सुप्रीम कोर्ट में दाखिल है। भारत में सेक्युलर मुस्लिम राम मंदिर के पक्ष में हैं। राम मंदिर तो बहुत पहले बन जाना चाहिए था। उनके इस बयान से कई मुस्लिम संगठन काफी गुस्से में थे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.