Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

दिल्ली पुलिस ने प्रधानमंत्री आवास योजना के नाम पर गरीब तबके के करीब 2000 लोगों से तीन करोड़ रुपये से ज्यादा ठगी करने वाले को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी का नाम राजेन्द्र कुमार त्रिपाठी है जो फरीदाबाद का रहने वाला है।

क्राइम ब्रांच के डीसीपी भीष्म सिंह ने बताया कि राजेन्द्र ने दिल्ली के नेहरू प्लेस में एक ट्रस्ट का दफ्तर खोल रखा है। जिसका नाम नेशनल हाउसिंग डेवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन है। उसने एक वेबसाइट भी बना रखी है जिसमें प्रधानमंत्री व उपराष्ट्रपति वैंकया नायडु की तस्वीर लगाई थी।

अपराध शाखा के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त डॉ. अजीत कुमार सिंगला के अनुसार डीसीपी भीष्म सिंह की देखरेख में गठित टीम ने आरोपी राजिन्द्र कुमार त्रिपाठी को फरीदाबाद से गिरफ्तार किया है।

वह इस साइट को सरकारी होने का दावा करता था। मूलरूप से गोरखपुर के रहने वाले राजेन्द्र ने कॉमर्स से स्नातक करने के बाद एलआईसी के नाम पर एक एनजीओ खोला और ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं से अलग-अलग योजनाओं में पैसा जमा करने के नाम पर ठगी करने लगा।

उस मामले में केस दर्ज होने के बाद राजेन्द्र ने प्रधानमंत्री आवास योजना में लोगों के मकान बनाने के नाम पर करीब 2000 गरीबों से करीब 3 करोड़ रुपये ठग लिए।

यही नहीं राष्ट्रीय आवास दिवस में विज्ञापन के टेंडर दिलाने के नाम पर चार कंपनियों से भी एक करोड़ रुपये ठग लिए। उसे कोर्ट ने पहले के केस में भगोड़ा घोषित किया था।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.