Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ‘अरविन्द केजरीवाल’ ने भाजपा को लेकर एक ऐसा विवादित बयान दे दिया है, जिसके बाद उनकी मुसीबते बढ़ सकती हैं। आम आदमी पार्टी के 5 साल पूरे होने की खुशी में आयोजित समारोह में सीएम केजरीवाल ने केंद्र सरकार और भाजपा पर निशाना साधते हुए भाजपा को आईएसआई का एजेंट बोल दिया है केजरीवाल ने कांग्रेस सरकार को मौजूदा सरकार से बेहतर बताया और कहा, कि कांग्रेस भाजपा से कई गुना अच्छा कार्य कर रही थी और जनता उनके काम से संतुष्ट थी। लेकिन भाजपा ने सत्ता में आने के बाद से सिर्फ भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का काम किया है 

केजरीवाल ने कहा-कि भाजपा द्वारा किए गए सभी वादे खोखले साबित हुए, भाजपा जनता को उल्लू बनाकर सिर्फ अपना उल्लू सीधा करने में लगी हुई है। भाजपा भ्रष्टाचार फैलाने में कांग्रेस से भी चार कदम आगे है।

भाजपा जातिवाद फैलाने में माहिर-

उन्होंने भाजपा पर जातिवाद का आरोप मढ़ते हुए जमकर बुराई की, साथ ही पाकिस्तान और  भारत के बीच बिगड़े संबधों का जिम्मेदार भाजपा और केंद्र सरकार को ठहराया। भाजपा सिर्फ दिखावा करती है कि देश के कानून सभी के लिए एकसमान है। लेकिन इसकी हकीकत ये है कि भाजपा सिर्फ देश में जातिवाद फैलाने का काम कर रही है। हिंदूवादी भाजपा सिर्फ और सिर्फ अपने फाएदा का सोचती है, देश के बंटवारे से उन्हें कोई मतलब नहीं है।

आप नेता ‘विश्वास’ ने की केजरीवाल की बुराई-

रामलीला मैदान में आप के पांचवे स्थापना दिवस के मौके पर वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास, संजय सिंह, सहित देशभर के कार्यकर्ता मौजूद रहे। कार्यक्रम के दौरान जब आप नेता कुमार विश्वास को बोलने का मौका दिया गया तो उन्होंने भाजपा की जगह पार्टी संयोजक अरविन्द केजरीवाल को ही निशाने पर ले लिया। आप नेता विश्वास एक लम्बे समय से सीएम केजरीवाल से नाराज चल रहे थे, उस नाराजगी का बदला उन्होंने केजरीवाल को अहंकारी और मतलबी कहकर निकाला।

विश्वास ने खुद की तुलना अभिमन्यु से की-

विश्वास ने पार्टी संयोजक पर टॉर्चर करने का आरोप लगाते हुए कहा-कि पार्टी ने मुझे बाहर निकालने की तमाम कोशिशें की, लेकिन जब इससे भी बात न बनी तो उन्होंने मुझे अपमानित करना शुरू कर दिया। लेकिन वो जानते नहीं थे, कि उन्होंने गलत इंसान से पंगा ले लिया है। विश्वास मैदान छोड़कर भागने वालो में नहीं है। विश्वास तो अभिमन्यु की तरह है, जो युद्ध का मैदान बिना जीते नहीं छोड़ेगा। आखिर दम तक कोशिश करेगा, तब जाके मिली मृत्यु में भी जीत का रंग शामिल होगा।

रविवार को आयोजित पार्टी के पांचवे स्थापना दिवस की बधाइयां आप नेता विश्वास ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए दी।

केजरीवाल के इन शब्दों से एक ही बात साफ होती है कि पार्टी में आपस में ही तालमेल नहीं है। जिसका गुस्सा भाजपा पर निकाला जा रहा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.