Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह सोशल मीडिया खास कर ट्विटर पर ज्यादा ही सक्रिय हैं। इसी क्रम में वह अपने ट्विट से कई बार विवादों में घिर चुके हैं। सोशल मीडिया पर ऐसे ही एक ट्वीट के बाद उन्हें जम कर ट्रोल किया जाने लगा। उन्होंने अपने ट्वीट में राहुल गाँधी की कैबिनेट होने की बात कही थी। जबकि आज तक राहुल गांधी न कभी प्रधानमंत्री बने हैं न ही मुख्यमंत्री ऐसे में उनकी कैबिनेट का सवाल ही नहीं उठता है।

दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट में एक विडियो शेयर करते हुए लिखा था कि रत्‍ना सिंह स्‍वर्गीय दिनेश सिंह की बेटी हैं, जो कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राहुल गांधी कैबिनेटमें रहे हैं। दिग्विजय की इस ट्वीट के बाद लोगों ने जमकर उनका मजाक उड़ाया। हालंकि दिग्विजय को गलती का एहसास होते ही उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया।

दिग्विजय ने ट्वीट को डिलीट करने के बाद सुधार करते हुए फिर से ट्वीट पोस्ट किया लेकिन इस बार भी मौके की तलाश में बैठे ट्विटर यूज़र्स ने उन्हें राजीव गाँधी की नाम में स्पेलिंग को लेकर घेर लिया। अपने ट्वीट में दिग्विजय ने राजीव गाँधी को Rajeev Gandhi लिखा था। जबकि उनके नाम में Rajiv Gandhi के प्रयोग को यूज़र सही बता रहे थे।

यूज़र्स के कुछ ट्वीट

गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह अपने बडबोलेपन और ट्वीटस की वजह से लगातार विवादों में घिरते रहे हैं। इससे पहले भी दिग्विजय कुख्‍यात आतंकी संगठन अल-कायदा के मुखिया रहे ओसामा बिन लादेन को ‘ओसामाजी’ और जमात-उद-दावा के चीफ हाफिज सईद को ‘साहेब’ कहकर संबोधित करने के आरोपों में घिर चुके हैं। 2013 में उन्‍होंने अपनी पार्टी की मीनाक्षी नटराजन को टंच माल  बताया था। अभी कुछ दिनों पहले 22 मार्च को दिग्विजय ने राम मंदिर के मुद्दे पर बीजेपी को ट्विटर के माध्यम से घेरने की कोशिश की थी, जिसपर उन्‍हें यूजर्स ने ट्रोल किया था। उन्‍होंने लिखा था, ”भगवान राम हमारे ह्रदय में हैं, कण-कण में हैं। भाजपा संघ केवल भगवान राम के नाम से राजनैतिक रोटियां सेकते हैं।” ट्रोल होने के वावजूद भी दिग्विजय सिंह लगातार ट्विटर पर एक्टिव रहते हैं और अपने विचारों को बिना सही गलत की परवाह किये और बिना लाग-लपेटे के शेयर करते हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.