Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लोकसभा में आज एनआईए ( संशोधन ) बिल पास हो गया है। अब ये बिल राज्य सभा में जाएगा। ‘राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (संशोधन) विधेयक 2019’ या एनआईए बिल पास कराने के लिए गृह मंत्री अमित शाह ने काफी लंबा भाषण दिया। इतना ही नहीं उन्होंने लोकसभा में डिवीज़न ऑफ वोट की मांग की।

आमतौर पर सभी तरह के बिल वॉइस वोटिंग के जरिए पास कराए जाते हैं लेकिन आज स्पीकर ने जैसे ही एनआईए बिल पर वॉइस वोटिंग के लिए आवाज लगाई तो गृह मंत्री अमित शाह ने डिवीज़न ऑफ वोट की मांग करते हुए कहा कि देश को यह जानना चाहिए कि कौन आतंकवाद के साथ है और कौन आतंकवाद के खिलाफ है।

लोकसभा स्पीकर ने गृह मंत्री की मांग मान ली जिसके बाद लोकसभा में डिवीजन ऑफ वोटिंग के बाद एनआईए संशोधन बिल को पास किया गया। प्रस्ताव के पक्ष में 278 वोट पड़े जबकि इसके खिलाफ महज 6 वोट पड़े। विधेयक पर लाए गए सभी संशोधन प्रस्तावों को मंजूर कर दिया गया।

इससे पहले लोकसभा में आज गृह मंत्री अमित शाह और असदुद्दीन ओवैसी के बीच जोरदार बहस हुई। दरअसल एनआईए ( संशोधन ) बिल पर चर्चा के दौरान जब बीजेपी के सत्यपाल सिंह भाषण दे रहे थे तो असदुद्दीन ओवैसी इसमें बाधा डाल रहे थे। इस पर सदन में मौजूद गृह मंत्री अमित शाह नाराज़ हो गए और खड़े होकर बोलने लगे।

अमित शाह ने कहा कि सब लोग अपनी बारी आने पर बोलें तो बेहतर रहेगा। जैसे ही अमित शाह ने बोलना शुरू किया तो विपक्षी सांसदों ने कहा कि अमित शाह डराने-धमकाने की कोशिश कर रहे हैं असदुद्दीन ओवैसी और और अमित शाह में डर फैलाने को लेकर लोकसभा में तकरार हो गई। ओवैसी ने कहा कि शाह विपक्ष को डरा रहे हैं। इस पर अमित शाह ने कहा कि आपके जेहन में डर बैठा है तो मैं क्या करूं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.