Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश में पांचवें चरण का प्रचार आज समाप्त हो गया है। सभी पार्टियों के स्टार प्रचारकों ने पांचवें चरण के आखिरी दिन प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी। इसी क्रम में आज सपा की कमान संभाल रहे अखिलेश यादव के साथ बसपा की तरफ से मायावती ने भी वोट मांगने के लिए ताबड़तोड़ रैलियों को संबोधित किया। इस दौरान जम कर एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने के साथ शब्दबाण चलाये गए। उत्तर प्रदेश में पांचवें चरण के मतदान में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की परंपरागत सीट अमेठी में उनकी कड़ी परीक्षा के साथ ही केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, बीजेपी से नाराज चल रहे फायर ब्रांड नेता वरुण गांधी, जगदंबिका पाल और सपा नेता माता प्रसाद पांडेय जैसे दिग्गजों के साख की परीक्षा भी होगी।

end of election promotions fifth phaseपांचवे चरण के चुनाव से पहले एडीआर द्वारा जारी अपराधिक और करोड़पति उम्मीदवारों के आंकड़े हैरान करने वाले हैं। एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार 612 में से 117 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले होने की घोषणा की है। इनमे से 96 उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। आपराधिक मामलों वाले उम्मीदवारों में बसपा से 23, भाजपा से 21,सपा से 17, रालोद से 8,  कांग्रेस से 3 और 19 निर्दलीय उम्मीदवार हैं। करोड़पति उम्मीदवारों की संख्या 168 (27 फीसदी) है। 612 उम्मीदवारों में 168 उम्मीदवारों की नगदी और संपत्ति करोड़ों में है। कुल करोड़पति उम्मीदवारों में बसपा के 51 में 43, भाजपा के 51 में 38, सपा के 42 में 32, कांग्रेस के 14 में सात, रालोद के 30 में 9 सहित 220 निर्दलीय उम्मीदवारों में 14 उम्मीदवारों ने अपनी संपत्ति एक करोड़ रुपए से अधिक घोषित की है। पांचवें चरण में चुनाव लड़ रहे तीन सबसे धनी उम्मीदवारों में 49 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति वाले अजय प्रताप सिंह (भाजपा), 36 करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति वाली अमिता सिंह (कांग्रेस) और 32 करोड़ की संपत्ति वाले मयंकेश्वर शरण सिंह (भाजपा) शामिल हैं। इसके अलावा 156 उम्मीदवारों ने अपने पैन कार्ड की घोषणा नहीं की है। 365 उम्मीदवारों ने आयकर ब्योरा नहीं दिया है।

गौरतलब है कि पांचवे चरण में 11 जिलों की 52 सीटों पर 27 फरवरी को वोट डाले जायेंगे हालांकि आलापुर की सुरक्षित विधानसभा सीट से सपा प्रत्याशी चंद्रशेखर कनौजिया की मौत के बाद उस सीट पर चुनाव स्थगित कर दिया गया है।  इस चरण में जिन जिलों में वोट डाले जाने हैं उनमे बलरामपुर, गोंडा, फैजाबाद, अंबेडकर नगर, बहराइच, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संत कबीर नगर, अमेठी और सुल्तानपुर शामिल हैं। 2012 में इस चरण की 52 सीटों में एसपी ने 38 और कांग्रेस ने पांच सीटें जीती थी। इसमें कांग्रेस के एक विधायक बीएसपी और दो बीजेपी का दामन थाम चुके हैं।

सारांशपांचवे चरण के प्रचार का आज आखिरी दिन था। पांचवे चरण में 11 जिलों की 52 सीटों पर 27 फरवरी को मतदान होना है। एडीआर की रिपोर्ट के अनुसार कुल 612 में से 117 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले हैं। करोड़पति उम्मीदवारों की संख्या 168 है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.