Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लोकसभा चुनाव नजदीक है और ऐसे में हर राजनीतिक दल हिंदुत्व के मुद्दे को सीढ़ी बनाकर सत्ता का कुर्सी तक पहुंचना चाहता है। अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी महाराष्ट्र में भगवान श्री राम के नाम का कार्ड खेलने की तैयारी में है। फडणवीस सरकार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मुंबई में रामायण महोत्सव कराने जा रही है।

बता दें कि फडणवीस सरकार इस महोत्सव पर पूरे 5 करोड़ के करीब खर्च करने वाली है और इसका आयोजन मुंबई के एमएमआरडीए मैदान पर किया जाना है। यह कार्यक्रम 25 फरवरी से लेकर 28 फरवरी तक चलेगा।

वहीं महाराष्ट्र में होने वाले इस महोत्सव में भारत के साथ-साथ कम्बोडिया, फिलीपींस, इंडोनेशिया के भी कलाकार, संस्कृत और हिंदी भाषा में रामायण को पेश करते नजर आएंगे।

माना जा रहा है कि आने वाले लोकसभा चुनावों को लेकर मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए फडणवीस सरकार इस तरह के आयोजन कर रही है। वहीं सरकार इस बात से इनकार कर रही है।

महाराष्ट्र सरकार के पर्यटन मंत्री जयकुमार रावल ने कहा कि रामायण महोत्सव को लेकर जिस तरह की बातें फैलाई जा रही हैं वो गलत है। इस तरह के आयोजन पहले भी होते रहे हैं।

वहीं महाराष्ट्र सरकार के भगवान श्री राम के नाम पर आयोजित होने वाले अंतरराष्ट्रीय रामायण महोत्सव को लेकर फडणवीस सरकार पर एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने निशाना साधा।

नवाब मलिक ने कहा है कि कई सालों से बीजेपी राम नाम का सहारे अपनी राजनीतिक रोटियां सेंक रही है, लेकिन अब देश की जनता असलियत जान चुकी है। रही बात रामायण महोत्सव की तो पिछले 5 सालों में ये सरकार अपनी सारी विफलताओं को इस महोत्सव की आड़ लेकर छिपाने का काम कर रही है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.