Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भारत में फर्जी कॉल सेंटरों का व्यापार तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में एफबीआई और कनाडा पुलिस भारत के इस समस्या को जड़ से खत्म करेगी। इसके लिए यूपी पुलिस भी इनकी मदद करेगी। जी हां, दिल्ली से सटे यूपी के नोएडा व गाजियाबाद शहर में आए दिन फर्जी कॉल सेंटरों के मामले सामने आते हैं। नोए़डा पूरे एनसीआर में फर्जी कॉल सेंटरों का गढ़ माना जाता है। ये कॉल सेंटर देश-विदेश के लोगों से फर्जीवाड़ा करते हैं। एफबीआई के असिस्टेंट लीगल सुहेल और कनाडा के रॉयल कनाडियन माउंटेड पुलिस (आरसीएमपी) के काउंसलर सैम इस्माइल ने एसएसपी डॉ. अजयपाल शर्मा के साथ मिलकर फर्जी कॉल सेंटरों को चिह्नित किया। नोएडा पुलिस के सहयोग से जल्द ही एफबीआई और कनाडा पुलिस इनके खिलाफ कार्रवाई करेगी। बता दें कि  यूएसए और कनाडा की पुलिस काफी परेशान है क्योंकि वहां के लोग भी इसके शिकार बन रहे हैं।

बता दें कि यूपी सरकार भी प्रदेश को अपराध मुक्त बनाने की जी-तोड़ मेहनत कर रही है। चाहे वो अपराध जमीन पर हो या साइबर में। एसएसपी ने बताया नोएडा में काफी समय से यूएसए के नागरिकों को वॉयस कॉल के जरिए पे-डे लोन में पेमेंट का लालच देकर डॉलर में ठगी की जा रही है। विदेश मंत्रालय से लगातार इसकी सूचना मिल रही थी। पिछले छह माह में नोएडा के कॉलसेंटरों से न्यूयॉर्क और कनाडा में सैकड़ों लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी की गई है। हालांकि, इस मामले में यूएसए के जिन नागरिकों के साथ ठगी हुई है, उनके बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है।

बता दें कि इस तरह का एक गैंग अप्रैल में पुलिस ने पकड़ा था। ठगी के शिकार यूएसए नागरिकों की जानकारी नहीं मिल पाई थी। इसीलिए एफबीआई से संपर्क किया गया था। इसके बाद पता चला कि उस गिरोह ने दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में ठगी की है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.