Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

एक बार फिर आरक्षण को लेकर देश की सियासत गरमा गई है। मायानगरी मुबंई में मराठा आरक्षण को लेकर चारों तरफ उग्र प्रदर्शन हो रहे हैं और चारों तरफ सरकारी और प्राईवेट संसोधनों को तहस-नहस किया जा रहा है। दुकानें बंद हैं और वाहनों को आग के हवाले किया जा रहा है। बता दें कि मराठा संगठनों का आरक्षण के लिए किया जा रहा महाराष्ट्र बंद आंदोलन उग्र हो गया है। बंद के दौरान प्रदर्शन कर रहे मराठा क्रांति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को औरंगाबाद के गंगापुर में एक ट्रक को आग के हवाले कर दिया। इसके अलावा मराठा क्रांति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन के दौरान अपना सिर भी मुंडवाया।  प्रदर्शनकारियों के पथराव में एक कांस्टेबल की मौत हो गई जबकि नौ अन्य जख्मी हो गए। आज मराठा क्रांति मोर्चा ने मुंबई बंद का आह्वान किया है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए औरंगाबाद में इंटरनेट सेवाएं पूरी तरह से रोक दी गईं हैं। बंद का सबसे ज्‍यादा असर मराठवाड़ा इलाके में देखने को मिल रहा है। आरक्षण की मांग पूरी न होने से नाराज मराठा मोर्चा ने मंगलवार को महाराष्‍ट्र में बंद का ऐलान किया है। कार्यकर्ताओं की तरफ से मुंबई में कई जगहों पर निकाले गए मार्च के चलते सड़क यातायात मुंबई, ठाणे, नवी मुंबई और महाराष्ट्र के कई जगहों पर बुधवार की सुबह बंद रहे।

हालांकि, ट्रेन सेवा अपने नियमित समय से चल रही है और उसकी सुरक्षा व्यवस्था और चाक-चौबंद की गई है। करीब 40 रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) और गवर्नमेंट रेलवे पुलिस पर्सनल (आरपीपी) को दादर, सीएसएमटी और 20 को कुर्ला में तैनात किया गया है।

बता दें कि औरंगाबाद में जलसमाधि आंदोलन के दौरान एक आंदोलनकारी काका साहेब दत्तात्रेय शिंदे ने गोदावरी नदी में छलांग लगाकर जान दे दी थी। उसकी मौत के बाद इस प्रदर्शन ने उग्र रूप ले लिया है। प्रशासन ने जिन क्षेत्रों में प्रदर्शन उग्र हुआ है, वहां सुरक्षबलों की संख्या बढ़ा दी है। अधिकारियों ने बताया कि कुछ एक संवेदनशील इलाकों में स्थानीय पुलिस के साथ ही बटालियन स्टेट रिजर्व पुलिस फोर्स तैनात की हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.