Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

सावधान! अगर आप मांसाहारी हैं और मछली खाते हैं तो सतर्क हो जाईए। आंध्र प्रदेश और केरल से आ रही मछलियों में ऐसे केमिकल पाए गए हैं जो कैंसर पैदा करते हैं। इस बात का खुलासा बिहार सरकार की एक जांच में हुआ है। बिहार सरकार जल्द ही आंध्र और केरल से आने वाली मछलियों की राज्य में बिक्री पर रोक लगाने जा रही है। बिहार के पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री पशुपति कुमार पारस ने कहा है कि राज्य के सभी जिलों के आलावा देश के अन्य राज्यों में भी आन्ध्र प्रदेश की मछली की जांच करवाई गई है। इस मछली में खतरनाक केमिकल पाया गया है। इसे खाने से कैंसर और अन्य बीमारी होने का खतरा है। उन्होंने लोगों से आंध्र समेत देश के अन्य राज्यों से आने वाली मछली के उपयोग नहीं करने की अपील की है।

इस मामले में जब हमने विशेषज्ञों की राय जानी तो पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल के कैंसर विभाग के विभागाध्यक्षा डॉ पी एन पंडित ने कहा कि आंध्र प्रदेश से आने वाली मछली को ताज़ा रखने के लिए जिस केमिकल का उपयोग किया जाता है वो FORMALDIHYDE है। इस केमिकल का उपयोग किसी चीज को प्रिजर्व करने के लिए किया जाता है। यदि इसका इस्तेमाल खाने में किया गया तो इससे कैंसर होने का खतरा है।

पटना में आंध्रप्रदेश से आने वाली मछली का सबसे बड़ा बाजार है। मछली बाजार समिति के एक व्यवसायी ने बताया कि यहां प्रतिदिन सात सौ से अधिक बड़ा पैकेट मछली का आता है। लोग यहां से थोक और खुदरा खरीददारी करते हैं। बिहार में 93296 हेक्टेयर तालाब, 9000 हेक्टेयर मन, 26303 हेक्टेयर जलाशय, 9.41 हेक्टेयर जल वाली जमीन और 3200 किलोमीटर में बहने वाली सदाबहार नदियों वाली जल स्रोत के बावजूद दूसरे राज्यों से मछली का आयात करना पड़ता है।

एपीएन ब्यूरो

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.