Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

जहां तक नजर जाये वहां तक पानी ही पानी और उसमें राहत कार्यों में जी-जान से जुटे जवान। ये तस्वीरें हैं मध्य प्रदेश के विदिशा की। सूबे में 24 घंटे से रुक-रुककर हो रही बारिश से नदी नाले उफान पर हैं। प्रदेश के 10 जिलों में बाढ़ के हालात हैं। भोपाल से सागर, विदिशा से रायसेन, खुरई से सागर राष्ट्रीय राजमार्ग बाढ़ के चलते बंद कर दिए गए हैं। सागर में राजघाट डैम लबालब भर चुका है। होशंगाबाद में तवा डैम में 2 फीट पानी बढ़ गया है। वहीं नर्मदा नदी के जलस्तर में में 8 फीट की वृद्धि हुई है। बाढ़ की आशंका को देखते हुए यहां 24 घंटे का अलर्ट जारी किया गया है।

राहत कार्यों में जुटे जवान लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रहे हैं। बारिश के पानी की निकासी के लिये सारनी में सतपुड़ा डैम के 5 गेट खोले गए हैं। भारी बारिश के चलते रायसेन से भोपाल का सड़क संपर्क टूट गया है। यहां दरगाह के पास रीठन नदी में बाढ़ आ गई है। विदिशा रायसेन मार्ग पर बेतबा नदी उफान पर है। पग्नेश्वर पुल पर करीब चार फीट पानी है। भोपाल-सागर मार्ग में गैरतगंज के पास बीना नदी उफान पर है। नदी का पानी पुल पर आ जाने की वजह से आवागम रोक दिया गया है।

सूबे के होशंगाबाद, छिंदवाड़ा, बैतूल, सागर, विदिशा, रायसेन, रतलाम, दमोह, उज्जैन और दमोह जिलों में बाढ़ के हालात हैं। भोपाल, सीहोर, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, होशंगाबाद, हरदा, बैतूल, बालाघाट, मंडला, सिवनी, अनूपपुर, डिंडोरी, सागर, दमोह, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, आगर, शाजापुर, देवास एवं खंडवा में अगले दो दिनों तक भारी बारिश की चेतावनी दी है।

बीते 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश दमोह 196, होशंगाबाद 77, भोपाल 65, सागर 66, रायसेन 32 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। बीते चौबीस घंटों में दमोह में 196 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है।

                                                                                                                         एपीएन ब्यूरो

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.