Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

हिन्दू समुदाय में वैष्णो देवी मंदिर का विशेष महत्व है। हिन्दू धर्म में वैष्णो मां के मंदिर को प्रमुख तीर्थ स्थल का दर्जा दिया जाता है। हर साल उत्तर प्रदेश से लाखों दर्शनार्थी वैष्णो देवी दर्शन के लिए जाते हैं। लेकिन सीमित सीटें होने की वजह से हजारों यात्री ऐसे भी होते हैं, जिन्हें ट्रेन में आरक्षित टिकट नहीं मिल पाती हैं। जिस वजह से हर साल सैंकड़ों श्रद्धालु माता के दर्शन से वंचित रह जाते हैं। दर्शनार्थियों की IS समस्या को दूर करने के लिए भाजपा सरकार ने लखनऊ से वैष्णो देवी तक सीधी बस चलाने का फरमान जारी किया है। इससें लाखों श्रद्धालुओं को तो सुविधा मिलेगी ही, साथ ही पर्यटन की दृष्टि से भी इस फैसलें के बेहतर और सुगम परिणाम देखने को मिलेंगे।

उत्तर प्रदेश से जम्मू-कश्मीर तक बस सेवा शुरू होने से मां वैष्णो देवी जाने वाले भक्तों को काफी आराम मिलेगा, साथ ही यात्री वैष्णो देवी के साथ-साथ श्रीनगर, गुलमर्ग और पहलगांम जैसे पर्यटन स्थलों की यात्रा का भी आनंद उठा सकेंगे।

इस बारे में भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने बताया, प्रदेश सरकार का ये फैसला यात्रियों के लिए लाभदायक साबित होगा। प्रत्येक वर्ष लाखों श्रद्धालु उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से मां वैष्णो की यात्रा पर जाते हैं, लेकिन लखनऊ से कोई बस सेवा नहीं होने के कारण ज्यादातर लोगों को ट्रेन से यात्रा करनी पड़ती हैं। ट्रेनों में सीमित सीट होने की वजह से यात्रियों को आरक्षण की किल्लतों से जूझना पड़ता हैं। प्रदेश सरकार के इस आदेश के बाद अब उत्तर प्रदेश परिवहन की बसें जम्मू कश्मीर जा सकेंगी और वहां की बसें प्रदेश में आ सकेंगी।

सीसीटीवी लैस होगी बसें

इस संबंध में 20 दिसंबर को सीएम योगी की मौजूदगी में दोनों राज्यों और परिवहन निगम के बीच अनुबंध किया जाएगा, जिसमें मुख्यमंत्री आवास पर दोनों राज्यों के परिवहन मंत्री समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे। इसके पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तीन शहरों से कटरा तक बसों का संचालन होगा। इसके तहत उत्तर प्रदेश के मथुरा, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर से बसे जम्मू एवं कश्मीर तक आ-जा सकेंगी। उत्तर प्रदेश से जम्मू एवं कश्मीर जाने वाली सभी बसों में सीसीटीवी कैमरा भी लगा होगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.