Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश में एक के बाद एक बड़े घोटाले सामने आ रहें हैं। पीएनबी, रौटोमेक कंपनी और ओबीसी घोटाले के बाद सरकार सख्त कानून बनाने की तैयारी कर रही है। इस कानून के तहत विदेश में बैठे जिन देनदारों पर बैंकों का 100 करोड़ रुपये या इससे ज्यादा बकाया है, उनकी संपत्तियां कुर्क की जाएंगी। यह चर्चा आज होने वाली कैबिनेट में होगी।

केंद्र सरकार की ओर से बैंकों को कहा गया है कि बैंक 50 करोड़ रुपये से अधिक के सभी एनपीए खातों की जांच करें और जानबूझकर कर्ज न चुकाने वालों की लिस्ट बनाई जाए।

आपको बता दें कि गुरुवार को कैबिनेट की होने वाली बैठक में चार्टर्ड अकाउंटेंट को नियमित करने के प्रस्ताव पर भी चर्चा हो सकती है। बुधवार की बैठक  के एजेंडे में चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया (ICAI) के कामकाज पर निगरानी रखने के लिए एक नई संस्था नेशनल फाइनेंशियल रिपोर्टिंग अथॉरिटी (NFRA) के गठन पर चर्चा होनी थी जिसकी आगे की चर्चा गुरुवार की बैठक में होगी।

वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग के सचिव राजीव कुमार ने ट्वीट कर सभी सरकारी  बैंकों को यह संबोधित किया है और निर्देश देते हुए कहा कि वे 15 दिनों के अंदर ऑपरेशनल और टेक्न‍िकल खतरों से निपटने के लिए जरूरी इंतजाम कर लें।

वही, दूसरी तरफ पंजाब नेशनल बैंक में हुए फर्जीवाड़ा और महाघोटाले के मामले में बैंक के इंटरनल चीफ ऑडिटर एमके शर्मा को  सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया  है। इसके साथ ही inx  मीडिया मनी लॉड्रिंग मामले में सीबीआई ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिंदबरम के बेटे कार्ति चिंदबरम को चैन्नई एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया है। जिस समय उनकों गिरफ्तार किया गया है वे उस समय भारत लौट रहे थे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.