Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुगल बादशाह अकबर को महान मानने से इंकार कर दिया है। महाराणा प्रताप की जयन्ती के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने गुरुवार को कहा, कि “महान अकबर नहीं बल्कि राजपूत शासक महाराणा प्रताप थे क्योंकि उन्होंने अपने स्वाभिमान के साथ कभी समझौता नहीं किया”। संबोधन के दौरान उन्होंने कहा, कि अतीत से भटका समाज कभी अपने उज्ज्वल भविष्य का आधार नहीं रख सकता। हमारा अतीत ही हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है और महाराणा प्रताप के जीवन और शौर्य से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए। बता दें कि सीएम योगी ने यह बयान गोमती नगर स्थित आईएमआरटी इंजीनियरिंग कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दिया।

सीएम योगी ने कहा, कि हल्दीघाटी के युद्ध में कौन जीता, कौन हारा यह महत्वपूर्ण नहीं है। महत्वपूर्ण यह है कि अपनी सेना के साथ उस समय की सबसे बड़ी ताकत के सामने जूझते हुए महाराणा प्रताप ने जिस शौर्य और पराक्रम का परिचय दिया था, इतिहास में इस प्रकार के उदाहरण बिरले ही मिलते हैं।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा, कि अकबर के साथ स्वाभिमान, सम्मान गिरवी रखने वाले राजा भी थे। लेकिन महाराणा प्रताप ने स्वाभिमान, सम्मान को अपने छोटे से राज्य के साथ जीवित रखा। यही कारण है कि 500 साल बाद भी लोग महाराणा प्रताप को याद कर रहे हैं।

इस अवसर पर सीएम योगी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेन्द्र ठाकुर ने पत्रिका “युवा शौर्य विशेषांक” का विमोचन भी किया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.