Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

गुजरात में जैसे-जैसे चुनाव के दिन नजदीक आ रहे हैं वैसे-वैसे तमाम पार्टियों में टिकटों के बंटवारे को लेकर अंतर्कलह भी बढ़ती जा रही है। कुछ दिनों पहले बीजेपी में यह कलह देखने को मिली थी अब कांग्रेस में देखने को मिली है। कांग्रेस की तीसरी लिस्ट जारी होते ही कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया है। कांग्रेस को टिकटों के ऐलान के पहले ही इस हंगामे की उम्मीद थी, यही वजह रही कि पार्टी ने देर रात उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की।

दरअसल बीती रात कांग्रेस ने गुजरात चुनाव के लिए अपनी तीसरी लिस्ट जारी कर दी। इस लिस्ट में 76 उम्मीदवारों के नाम हैं। कई मौजूदा विधायकों का टिकट काटा गया है। कई लोग जो टिकट के लिए आस लगाए बैठे थे, उन्हें भी निराशा हाथ लगी। पार्टी के अंदर किसी भी तरह की नाराजगी से बचने के लिए 14 उम्मीदवारों को फोन पर उनकी उम्मीदवारी पर मुहर लगने की जानकारी दी गई। हालांकि लिस्ट जारी होते ही हंगामा हो गया।

बीती रात नाराज कार्यकर्ताओं ने गांधीनगर स्थित पार्टी दफ्तर के बाहर पुतला जलाया और जमकर तोड़फोड़ की। कांग्रेस की तीसरी लिस्ट में बनासकांठा के 2 विधायक के नाम भी काटे गए हैं, इन दोंनो ने ही राज्य सभा चुनाव में अहमद पटेल को वोट दिया था। पहले अहमद पटेल को वोट देने वाले सभी 43 विधायकों को फिर से टिकट देने का भरोसा दिया गया था। इस वजह से भी कार्यकर्ताओं में रोष है। उधर अहमदाबाद में भी पसंदीदा उम्मीदवार को टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं ने कई गाड़ियों में आग लगा दी।

वहीं कांग्रेस ने दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने भी चुनाव मैदान में उतरने का एलान किया है जिसके कारण भी विवाद पैदा हो गया है। बता दें कि जिग्नेश मेवाणी गुजरात के वड़गांव से चुनाव लड़ेंगे, लेकिन उनके इस एलान से कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ गई हैं क्योंकि वड़गांव सीट से ही कांग्रेस के मनिभाई वाघेला पहले से मैदान में हैं और वो मज़बूत उम्मीदवार माने जाते हैं।

जिग्नेश मेवाणी ने गैर भाजपाई दलों से अपने खिलाफ उम्मीदवार न उतारने की अपील की है। उनका कहना है कि आंदोलनकारी साथियों और युवा वर्ग की ये ख्वाहिश थी कि हम इस बार फांसीवादी भाजपाइयों का सड़क के साथ-साथ चुनाव में भी मुक़ाबला करें और दबे-कुचले तबक़ों की आवाज बनकर विधानसभा जाएं।

गौरतलब है कि 76 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट में कांग्रेस ने पाटीदार समाज के 20 लोगों को उम्मीदवार बनाया है। जबकि 22 विधायकों को दोबारा टिकट दिया गया है। तीसरी लिस्ट में 7 महिलाओं के भी नाम हैं। साथ ही दिग्विजय सिंह के दामाद प्रनंजय दित्य परमार को लूनावडा से टिकट दिया गया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.