Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

अंधविश्वास का जंजाल दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है। जिसकी चपेट में आम जनता ही नहीं पिसता बल्कि शिक्षित वर्ग और नेता भी पीसते हैं।  हाल ही में हुए डेरा सच्चा सौदा के गुरमीत राम रहीम की सच्चाई से पर्दा उठने के बाद भी लोगों की आस्था अंधविश्वास के प्रति घटी नहीं है बल्कि दिन-ब-दिन बढ़ रहा है। इसका एक उदाहरण छत्तीसगढ़ में देखने को मिला। छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री रामसेवक पैकारा शुगर भी ऐसे एक बाबा के दरबार में पकड़े गए। मंत्री जी ने कहा कि वे तब जनसंपर्क यात्रा के तहत बलरामपुर जिले में पहुंचे आये थे तब उन्हें कंबल बाबा के बारे में पता चला।

कंबल बाबा का दावा है कि वो किसी को भी कंबल ओढ़ाकर कान में फूंक दे तो कोई भी बीमारी गायब हो जाती है। इस दौरान मरीज को 5 बार लगातार दरबार में आना पड़ता है। जब गृहमंत्री से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि, मैं तो एक जनसंपर्क यात्रा पर था यहां आते मैंने बाबा का चमत्कार देखा। मंत्री जी आगे कहते हैं कि, जब मैं यहां पहुंचा तो पहले से ही 5 हजार लोगों की भीड़ मौजूद थी। मैंने भी वहां खड़े होकर देखा जो आदमी चल नहीं पा रहा है बाबा ने उसे कुछ ही देर में चला दिया। ये तो किसी चमत्कार से कम नहीं है।

दरअसल मंत्री जी को शुगर की बीमारी है । मंत्री जी किसी डॉक्टर को दिखाने के बजाय वे कंबल बाबा की शरण में चले गए। मंत्री जी ने कहा कि कंबल बाबा ने मुझे एक चम्मच शक्कर दिया है और मुझे पांच बार आने के लिए भी बोला है। आगे मंत्री जी ने कहा कि, अगर इसके खाने से शुगर जैसी बिमारी सही हो जाती है तो क्या हर्ज है। बाबा का इलाज बिल्कुल मुफ्त है और यहां गरीब भी आते हैं और संपन्न परिवार के लोग भी।

कौन है कंबल बाबा-

कंबल वाले बाबा का असली नाम गणेश यादव है, वह गुजरात का रहने वाला है। दावा है कि वह 28 साल से इलाज कर रहे हैं। यह भी दावा है कि पहले वह बोल और सुन नहीं सकते थे, भगवान की कृपा से बोलने-सुनने लगे।

हालांकि मंत्री जी 10 साल से शुगर से पीड़ित हैं, फिलहाल उन्होंने शक्कर की एक खुराक ली है देखते हैं क्या इससे उनका मर्ज ठीक होता है। अगर वाकई में ऐसा होता है तो ना जाने कितने अस्पतालों में ताला लग जाएगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.