Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

स्वामी श्रद्धानंद सरस्वती की तपस्थली रहा हरिद्वार का विश्व प्रसिद्ध गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय एक बार फिर से विवादों में हैं। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव चल रहे हैं। लेकिन बाहरी तत्वों का विश्वविद्यालय में लगातार हस्तक्षेप बना हुआ है। छात्र संघ चुनाव जीतने को लेकर छात्रों में इस कदर होड़ मची है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बड़े बदमाशों तक विश्वविद्यालय चुनाव में दखल दे रहे हैं। ये आरोप तब और खुलकर सामने आए जब छात्रसंघ चुनाव लड़ रहे दो निर्दलीय उम्मीदवारों मनीष कुमार और राहुल कटारिया के अगवा होने की खबर आई। जिसके चलते विश्वविद्यालय में छात्र संघ चुनाव रद्द कर दिए गए हैं। छात्रों में निराशा और गुस्से का माहौल है।छात्रों का आरोप है कि, शुरू से विश्वविद्यालय में असामाजिक तत्वों का हस्तक्षेप रहा है।

छात्रसंघ चुनाव लड़ रहे दो निर्दलीय उम्मीदवारों का अपहरण होने से विश्वविद्यालय के साथ ही शहर भर में सनसनी फैल गई है। दोनों निर्दलीय प्रत्याशियों के अपहरण का आरोप सीधा-सीधा गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के वर्तमान छात्रसंघ अध्यक्ष विक्रम भुल्लर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मनीष चौहान समेत दर्जन भर दबंग छात्र नेताओं पर लगे हैं। सभी आरोपी छात्र एबीवीपी से जुड़े हुए हैं और एबीवीपी का शुरू से गुरुकुल में कब्ज़ा रहा है। वहीं पुलिस लगातार अपहृत छात्रों और फरार आरोपियों की तलाश कर रही है।सीओ कनखल ने जल्द से जल्द अगवा छात्रों को बरामद करने का आश्वासन दिया है।

गुरुकुल कांगड़ी के छात्र संघ चुनाव में अध्यक्ष और सचिव पद कब्ज़ाने को लेकर शुरू से ना केवल छात्रों बल्कि प्रमुख राजनीतिक दलों में होड़ रही है। यही कारण है कि छात्रसंघ चुनाव इस बार भी असामाजिक तत्वों के निशाने पर हैं।

—ब्यूरो रिपोर्ट, एपीएन

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.