Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत की ओर से जवाबी कार्रवाई के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव का माहौल बढ़ता ही जा रहा है। तनाव की खींचातानी के बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने प्रेस कॉंफ्रेस कर एक बार फिर भारत के सामने बातचीत का प्रस्ताव रखा है।

इमरान खान ने पहले और दूसरे विश्व युद्ध का जिक्र करते हुए कहा कि जंग शुरू होने के बाद कब खत्म होगी, यह तय कर पाना किसी के हाथ में नहीं है। इमरान ने कहा कि हथियार दोनों देशों के पास है। जंग शुरू हुई तो पता नहीं कहां तक जाएगी।

उन्होंने कहा कि पहला विश्व युद्ध महीनों में खत्म होना था, लेकिन उसको खत्म होने में 6 साल लग गए। दूसरे विश्व युद्ध में हिटलर ने रूस को फतह करने को सोची थी, लेकिन उसे मुंह की खानी पड़ी। आतंक के खिलाफ लड़ाई में क्या अमेरिका ने सोचा था कि अफगानिस्तान में इतने लंबे वक्त तक फंसे रहेंगे।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि जो हथियार हमारे पास हैं और आपके पास हैं, क्या उसका आंकलन न कर पाने की गलती की जा सकती है। जंग शुरू हुई तो वह कहीं भी जा सकती है क्योंकि तब यह न मेरे काबू में होगी और न नरेंद्र मोदी के बस में होगी

इमरान खान आगे एक बार फिर दोहराया हम भारत के साथ आतंकवाद के मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार हैं लेकिन मसले बातचीत के जरिए ही हल करने चाहिए।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय वायु सेना ने 26 फरवरी को पाकिस्तान पर कार्रवाई करते हुए एयर स्ट्राइक की। इस एयर स्ट्राइक में भारतीय वायु सेना ने 12 मिराज 2000 विमानों की मदद से पाकिस्तान के बालकोट में 1000 किलो बमबारी की है। जिसमें 200-300 आतंकियों के मारे जाने की खबर  सामने आई है।

 

 

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.