Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

दिल्ली सरकार में  परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत के 16 ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की है। कैलाश गहलोत के दिल्ली स्थित घर वसंत कुंज से लेकर गुरुग्राम तक आयकर विभाग की छापेमारी हुई है। आयकर विभाग ने ये छापेमारी रिटर्न्स को लेकर की है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कैलाश गहलोत पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का मामला भी दर्ज कर लिया है।

आपको बता दें कि कैलाश गहलोत नजफगढ़ के विधायक हैं। साल 2017 में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल में जगह दी थी। कुछ महीने बाद ही गहलोत को गोपाल राय की जगह दिल्ली का परिवहन मंत्री भी बना दिया गया था। कैलाश गहलोत के पास इस समय ट्रांसपोर्ट, रेवेन्यू, इनफॉरमेशन एंड टेक्नॉलजी और कानून मंत्रालय जैसे प्रमुख विभाग हैं। दिल्ली सरकार की कई महत्वाकांक्षी योजनाएं जैसे पूरे दिल्ली में सीसीटीवी लगाना हो या फिर पूरे दिल्ली को वाई-फाई जोन में लाने की जिम्मेदारी गहलोत पर ही है।

वहीं आम आदमी पार्टी ने इन छापेमारी को राजनीतिक एजेंडा बताया है। आम आदमी पार्टी ने इन छापेमारी के बाद ट्वीट कर केंद्र सरकार पर हमला बोला। आप ने कहा कि हम जनता को सस्ती बिजली और मुफ्त पानी दे रहे है। अच्छी शिक्षा-स्वास्थ्य व्यवस्था देने के साथ- साथ सरकारी सेवाएं घर-घर तक पहुंचा रहे। और वो CBI, ED से हमारे मंत्रियों-नेताओं के घर छापे पड़वा रहे । जनता सब देख रही है, 2019 में सारा हिसाब एक साथ करेगी !

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर हमला बोला है वहीं नेता प्रतिपक्ष विजेंदर गुप्ता ने भी दिल्ली सरकार पर कई आरोप लगाए हैं।

गौरतलब है कि कैलाश गहलोत का इससे पहले भी विवादों भरा नाता रहा है। इससे पहले भी उनपर आचार संहिता का उल्लंघन का मामला चल रहा था, जिसमें चुनाव आयोग ने उनपर एफआईआर दर्ज की थी। हालांकि, बाद में उन्हें कोर्ट से राहत मिल गई थी।

इसके अलावा भी कैलाश गहलोत उन 20 विधायकों में शामिल थे, जिनपर ऑफिस ऑफ प्रोफिट का मामला चल रहा था। इस मामले में भी उन्हें राहत मिल गई थी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.