Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा है कि अमेरिकी मीडिया का एक तबका, कश्मीर पर एकतरफा तस्वीर दिखा रहा है। उन्होंने कहा ऐसा उन पक्षों के कहने पर किया जा रहा है जो भारतीय हितों के खिलाफ काम कर रहे हैं।

भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा भारत द्वारा पिछले महीने जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त कर उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने का फैसला लोगों की भलाई के लिए किया गया है। अनुच्छेद 370 एक अराजकतावादी प्रावधान था। जिससे अर्थव्यवस्था का दम घुट रहा था और पाकिस्तानी आतंकवाद को बढ़ावा मिल रहा था।

अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला के मुताबिक दुर्भाग्यवश, अमेरिका में मीडिया के एक तबके ने अपने ही कारणों से, मुद्दे के इस परिदृश्य को सामने नहीं लाने का विकल्प चुना है जबकि ये परिदृश्य बेहद महत्वपूर्ण है। इसके बजाय वो तस्वीर के उस पहलू पर फोकस कर रहे हैं जिसे उन पक्षों द्वारा आगे बढ़ाया गया है जो हमारे हितों से बैर रखते हैं।

श्रृंगला के अनुसार भारतीय दूतावास ने भारत के बारे में तथ्यात्मक स्थिति को लेकर कांग्रेस सदस्यों, सीनेटरों और थिंक टैंक से संपर्क कायम करने के लिए एक व्यापक अभियान छेड़ा है। श्रृंगला के मुताबिक, कश्मीर में हालिया बदलावों से माहौल बेहतर होगा और ये कदम जम्मू कश्मीर के लोगों के हित में है।

उन्होंने कहा कि इससे प्रदेश के लोगों को अपने अधिकारों को हासिल करने में मदद मिलेगी। जिससे वो दशकों से वंचित थे। अमेरिकी राजदूत ने कहा कि, इसी विचार से हम विश्व बिरादरी को रूबरू कराने की कोशिश कर रहे हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.