Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

Kapil Mishra's mother wrote an open letter to Kejriwalदिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले कपिल मिश्रा का अनशन तीसरे दिन भी जारी है। कपिल मिश्रा की जंग में अब उनकी मां अन्नपूर्णा मिश्रा भी उतर आई हैं। पूर्वी दिल्ली नगर निगम की पूर्व महापौर डा. अन्नपूर्णा मिश्रा ने आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक खुला पत्र लिखा जिसमें उन्होंने मुख्यमंत्री पर झूठ बोलने और जानकारी नहीं देने जैसे संगीन आरोप लगाए हैं। अन्नपूर्णा मिश्रा ने केजरीवाल को लिखे पत्र में भगवान से डरने की नसीहत दी और कहा कि मेरा बेटा भाजपा नहीं सच का एजेंट है।

अन्नपूर्णा मिश्रा का खुला ख़त –

मां का पत्र अरविंद जी को:- 

प्रिय अरविंद,

यह पहला और आखिरी पत्र लिख रही हूं तुम्हे। 

मेरा बेटा तुम्हारे से सवाल पूछेगा और तुम सवालों से बचोगे ऐसा कभी नहीं सोचा था। 

जब जब तुम मुझसे मिले हो तुमने हमेशा सार्वजनिक जीवन मे पारदर्शिता की बात की। हर चीज को जनता के सामने रखने की बात की।

आज मेरे बेटे पर BJP का एजेंट होने का आरोप लगा रहे हो, सोशल मीडिया में झूठी तस्वीरें तुम्हारे सबसे करीबी साथी फैला रहे हैं।

कल शाम को AAP के ज्यादातर वरिष्ठ नेताओं ने सोशल मीडिया पर जो तस्वीर फैलाई उस कार्यक्रम में तो तुम भी थे। तुम्हारी सारी कैबिनेट थी। कुमार विश्वास के पिताजी के सम्मान में वो कार्यक्रम था।

कितना झूठ अरविंद, आखिर कितना??

याद है जब तुम मेरे घर आए थे कि कपिल को पार्टी में लेना चाहता हूं, चुनाव लड़वाना है कपिल मान नहीं रहा। वो केवल आंदोलन करना चाहता था, तब तुम आए थे मेरे पास कि कपिल की जरूरत है।

आज तुम्हारे लोग मुझे भी भ्रष्टाचारी कह रहे हैं। तुम चुप हो। दिल्ली की सबसे पहली मोहल्ला सभा मैंने लगाई थी। 2007 में। तुम भी तो आए थे उस मोहल्ला सभा में, तुम्हारे सारे साथी आए थे। तब तो कोई आंदोलन या पार्टी का नामों निशान नहीं था। कपिल उस मोहल्ला सभा को संचालित कर रहा था। 

तुम्हारी अपनी किताब स्वराज में तुमने मेरे काम करने के तरीकों को लिखा हैं। आज कहां से कहां आ गए हो तुम। मुझे तुमने ही बताया था कि जब AAP के 28 विधायक जीत कर आये तो सबसे पहले उन्हें कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में मेरी ही मोहल्ला सभा की VIDEO दिखाई गई। 

अरविंद, तुमने कपिल के साथ काम तो किया है पर शायद उसे पहचाना नहीं। वो बहुत जिद्दी है। तीन दिन से कुछ नहीं खाया उसने। मुझे गर्व है कि मैंने ऐसे बेटे को जन्म दिया। 

एक मां होने के नाते बस इतना कहना चाहती हूं कि छोटी सी जानकारी उसने मांगी है वो दे दो। वो किसी का एजेंट नही केवल सच का एजेंट है। ये झूठ तुम्हारे किसी काम नहीं आएंगे, भगवान से डरना सीखो। 

आशीर्वाद और स्नेह 

डॉ अन्नपूर्णा मिश्रा

अन्नपूर्णा मिश्रा यह ख़त लिखने के बाद अपने पुत्र कपिल मिश्रा से मिलने अनशन स्थल पर भी गई, जहाँ पर मीडिया से बात करते हुए श्रीमती मिश्रा ने कपिल को भारतीय जनता पार्टी में शामिल करने की इच्छा जताई है। पर कपिल मिश्रा का कहना है कि वो आम आदमी पार्टी को नहीं छोड़ेंगे।

गौरतलब है कि कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था और उनसे उनकी और अन्य आप नेताओं के विदेश यात्रा के दस्तावेज मांगे थे। मालूम हो कि 10 मई को अंकित नाम के शख्स ने कपिल मिश्रा को अनशन के दौरान थप्पड़ मारने की भी कोशिश की थी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.