Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

चुनावी दौर में राजनीति पार्टियों के नेताओं द्वारा विकास के मुद्दे को छोड़कर सारी सियासी घमासान गधे के इर्द गिर्द घूम रही है। जिसे लेकर आम आदमी पार्टी के नेता व सम्राट कवि कुमार विश्वास ने सभी दलों के राजनीतिक नेताओं पर चुटकी लेते हुए व्यंग के माध्यम से अपने ट्वीटर और यूट्यूब चैनल पर एक अपनी वीडियो को शेयर करते हुए ‘गधा’ लिखा है।

Kumar Vishwas said that here also ass there are also ass

कुमार विश्वास इस वीडियो में एक कवि के अंदाज में घुले नजर आ रहे हैं। उन्होंने प्रसिद्ध हास्य कवि स्वर्गीय आचार्य ओम प्रकाश आदित्य जी की गधे पर आधारित एक हास्य कविता को याद दिलाते हुए कहा कि “इधर भी गधे हैं उधर भी गधे हैं, जिधर देखता हूं गधे ही गधे हैं, गधे हंस रहे आदमी रो रहा है। हिंदुस्तान में ये क्या हो रहा हैं?” यह वीडियो करीब 2 मिनट 32 सेकेंड का है, इस वीडियो को जरा आप भी ध्यान से देखिए और सुनिए कि कैसे कविता में कुमार विश्वास ने गधे के बारे में अपने संदर्भ को पेश किया है।

गौरतलब है कि गधे पर मचे सियासी घमासान अखिलेश यादव के एक बयान आने के बाद से शुरु हुआ था। सीएम अखिलेश ने मंच से जनसंबोधन के दौरान पीएम मोदी पर तंज कसते हुए सदी के महानायक अमिताभ बच्चन को गुजरात में गधों का विज्ञापन करने से मना किया था। जिसपर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि लोग चाहे तो गधों से भी सीख ले सकते हैं, क्योंकि उनके लिए सभी सामान एक समान होते हैं और वह काफी मेहनती होते हैं। जिसके बाद हास्य कवियों से लेकर आम व्यक्तियों के द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से खूब गधों पर चित्रों, वीडियो, जॉक्स को शेयर किया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.