Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने की दिशा में मोदी और योगी सरकार एकजुट हो गई है। यूपी की बुधवार की सुबह यूपी इंवेस्टर्स समिट के उद्घाटन से हुई जिसे पीएम मोदी ने किया। बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार राज्य में निवेश और बेहतर कारोबार के इरादे से इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन कर रही है। उद्घाटन के समय  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल राम नाईक, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, उमा भारती समेत कई केंद्रीय और राज्य मंत्री मौजूद रहे। इस समिट में मुकेश अंबानी, रतन टाटा, गौतम अडानी, बिरला समेत देश के 5000 बड़े उद्योगपति समेत दुनिया के कई देशों के प्रतिनिधि भी शामिल हुए हैं।

औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने बताया कि समिट के दौरान उद्योगपतियों के साथ विभिन्न क्षेत्रों में बिजनेस करने के लिए समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। सरकार ने कारोबारियों के लिए आकर्षक व व्यावहारिक औद्योगिक विकास नीति जारी की है। समिट में मुकेश अंबानी ने यूपी के इंफ्रास्ट्रक्चर से लेकर यूपी के गांववासी तक की बात की। उन्होंने जियो के बारे में बताते हुए उसे आधुनिक भारत का अहम् हिस्सा बताया। उन्होंने उत्तर प्रदेश को सबसे बड़ा बाजार बताया। मुकेश अंबानी ने मां गंगा के स्वच्छता की भी बात कही। अंबानी ने कहा कि जियो अगले तीन साल में 10 हजार करोड़ रुपए का निवेश करेगा। अगले दो महीनों में दो करोड़ जियो फोन यूपी को दिए जाएंगे। अगले तीन साल में 1 लाख से ज्यादा नौकरियां देंगे।

वहीं उद्योगपति गौतम अडानी ने पीएम मोदी की खूब तारीफ की। उन्होंने गुजरात के विकास में पीएम मोदी के योगदान का स्वागत किया। यही नहीं उन्होंने सीएम योगी की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि यूपी में योगी जी ने लीडरशिप की नई परिभाषा गढ़ी है। अडानी ने कहा कि यूपी सरकार ने कानून व्यवस्था पर ध्यान दिया है। अडानी ने कहा कि उनका लक्ष्य 1 हजार मेगावाट सोलर प्रोजेक्ट स्थापित करने का है। अडानी ने कहा कि वो एक वर्ल्ड क्लास विश्वविद्यालयों का निर्माण करेंगे। उन्होंने कहा कि यूपी में अगले 5 साल में 35000 करोड़ रुपए इंवेस्ट किए जाएंगे। आदित्य बिड़ला ग्रुप के कुमार मंगलम बिड़ला ने कार्यक्रम में कहा कि सीएम योगी की अगुवाई में यूपी में बिजनेस करने को आसान बनाया जा रहा है. उन्होंने यूपी में 25000 करोड़ रुपए के निवेश का वादा किया।

खबरों के मुताबिक, माना जा रहा है कि 2 दिन के इस आयोजन में करीब 3 लाख करोड़ रुपये के एमओयू साइन होंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समिट में जाने से पहले सुबह ट्वीट किया।

उन्होंने कहा कि सीएम योगी की अगुवाई में उत्तर प्रदेश लगातार आगे बढ़ रहा है. वहीं योगी आदित्यनाथ ने भी ट्वीट पर पीएम मोदी का स्वागत किया। इस समिट में जी ग्रुप के चेयरमैन सुभाष चंद्रा ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। बता दें कि शानदार आयोजन के लिए राजधानी लखनऊ को दुल्हन की तरह सजाया गया है। पूरे शहर के चप्पे-चप्पे पर इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियां दिखाई दे रही है. बड़े-बड़े होर्डिंग्स और बैनर लगे हुए हैं. एयरपोर्ट से लेकर इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान तक तकरीबन 25 किलोमीटर के रास्ते को बेहतरीन तरीके से सजाया गया है।

इस समिट में योगी आदित्यनाथ ने सभी कारोबारियों का स्वागत करते हुए कहा कि सरकार ने एक राज्य निवेश प्रोत्साहन बोर्ड गठित किया है जिससे देश के अग्रणी उद्योगपतियों का सक्रिय सहयोग प्रदेश के उद्योग नीतियों को एक नई दिशा प्रदान करने में मदद करेगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने इज ऑफ डूइंग बिजनेस के अंतर्गत उद्योगों को सुगम बनाने का प्रयास शुरू कर दिया है। सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक विकास के साथ-साथ आवागमन के लिए बुनियादी ढ़ांचागत विकास भी अति महत्वपूर्ण है। इसके लिए पूर्वांचल और बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे पर ध्यान दिया जाएगा। सीएम ने कहा कि यूपी में पर्यटन की भारी संभावनाएं है, इसके लिए नई नीति तैयार की गई है। उन्होंने अपने बजट के बारे में भी लोगों को बताया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.