Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने 24 फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची जारी करते हुए सलाह दी है कि छात्र इन चिन्हित विश्वविद्यालयों में एडमिशन न ले। क्योंकि इन 24 विश्वविद्यालयों को ब्लैक लिस्ट की सूची में डाल दिया गया है। यूजीसी द्वारा जारी की गई इस लिस्ट में राजधानी दिल्ली के भी 8 विश्वविद्यालय शामिल हैं।

आयोग द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है, कि ‘विद्यार्थियों और आम लोगों को सूचित किया जाता है कि फिलहाल देश के विभिन्न हिस्सों में 24 स्वयंभू और गैर मान्यता प्राप्त संस्थान यूजीसी अधिनियनम का उल्लंघन करके चल रहे हैं। इन विश्वविद्यालयों को फर्जी घोषित किया गया है और उन्हें कोई भी डिग्री प्रदान करने का हक नहीं है।’

उत्तर प्रदेश और दिल्ली की सूची

  • महिला ग्राम विद्यापीठ/विश्वविद्यालय प्रयाग, इलाहाबाद।
  • गांधी हिंदी विद्यापीठ, प्रयाग, इलाहाबाद।
  • नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ इलेक्ट्रोकांपलेक्स होम्योपैथी, कानपुर
  • नेताजी सुभाषचंद्र बोस यूनिवर्सिटी, अचलताल, अलीगढ़
  • उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय, कोसीकला, मथुरा
  • महाराणा प्रताप शिक्षा निकेतन विश्वविद्यालय, प्रतापगढ़
  • इंद्रप्रस्थ शिक्षा परिषद, खोड़ा माकनपुर, नोएडा
  • गुरुकुल विश्वविद्यालय, वृंदावन, मथुरा

दिल्ली 

  • वाराणसेय संस्कृत विश्वविद्यालय, जगतपुरी दिल्ली
  • कमर्शियल यूनिवर्सिटी लिमिटेड, दरियागंज दिल्ली
  • यूनाइटेड नेशंस यूनिवर्सिटी दिल्ली
  • वोकेशनल यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • एडीआर सेंट्रीकन्यूरिडिकल यूनिवर्सिटी, एडीआर हाउस, राजेन्द्रनगर दिल्ली
  • इंडियन इंस्टीट्यूटी ऑफ साइंस एंड इंजीनियरिंग, दिल्ली

 बिहार और कर्नाटक

  • मैथली विश्वविद्यालय, दरभंगा, बिहार
  • बड़ागानवीसरकार वर्ल्ड ओपन यूनिवर्सिटी एजुकेशन सोसायटी गोकांक, बेलगाम

केरल, मध्य प्रदेश और तमिलनाडू

  • सेंट जॉन विश्वविद्यालय, कृष्णटम
  • केसरवानी विद्यापीठ जबलपुर
  • राजा अरेबिक यूनिवर्सिटी नागपुर
  • डीबीडी संस्कृत विश्वविद्यालय, पुत्तुर त्रिची, तमिलनाडू

पश्चिम बंगाल और उड़ीसा

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आल्टरनेटिव मेडिसिन, कोलकाता
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आल्टरनेटिव मेडिसिन एंड रिसर्च, ठाकुरपुर कोलकाता
  • नवभारत शिक्षा परिषद, अन्नपूर्णा भवन, शक्तिनगर, राउरकेला
Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.