Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश के मदरसों के लिए एक नया फरमान जारी कर दिया है। इस फरमान के अनुसार अब मुस्लिम त्योहारों के साथ-साथ हिन्दू धर्म के त्योहारों पर भी मदरसों को बंद रखा जाएगा। योगी सरकार ने मदरसों के लिए छुट्टियों का नया कैलेंडर जारी करते हुए ईद और मुहर्रम के लिए मिलने वाली 10 छुट्टियों को घटाकर 4 कर दिया है। वही साथ ही 7 नई छुट्टियों को मदरसों के कैलेंडर में जोड़ने का आदेश पारित किया है।

यूपी के मदरसों के कैलेंडर में अब दिवाली, दशहरा, बुद्ध पूर्णिमा और महावीर जयंती की अवकाश को भी जोड़ा जाएगा। जबकि इस आदेश के पहले तक मदरसों में सिर्फ होली और अंबेडकर जयंती के अवसर पर छुट्टी दी जाती थी।

ईद पर मिलेगा 4 दिन का अवकाश

मदरसों के इस कैलेंडर में 7 नई छुट्टियां तो जोड़ी जाएगी, इसके साथ ही जिन्हें ईद-उल-जुहा और मुहर्रम पर एक साथ ली जाने वाली 10 छुट्टियों की संख्या घटाकर 4 कर दी हैं। यानि कि यूपी का कोई भी मदरसा अब इस मुस्लिम पर्व पर 4 दिन से ज्यादा का अवकाश घोषित नहीं कर सकता है।

योगी सरकार का इस बारे में मानना है कि उत्तर प्रदेश में संचालित मदरसों को बाकी बेसिक सरकारी स्कूल जैसे ही अधिकार मिलने चाहिए, इसलिए मदरसों के कैलेंडर में बदलाव करके जातिवाद को खत्म करने की कोशिश की जा रही है। योगी सरकार ने बताया, यूपी में संचालित सभी विद्यालय और मदरसें एकसमान है, इसलिए इनके नियम भी एकसमान होने चाहिए। बता दें, इससे पहले सरकार ने राज्य के मदरसों में राष्ट्रगान अनिवार्य कर दिया था और 15 अगस्त, 26 जनवरी के कार्यक्रमों की रिकॉर्डिंग के आदेश दिए थे।

बदला गया कक्षाओं का समय

कैलेंडर में बदलाव करने के अलावा सभी 16,461 मदरसों में लगने वाली कक्षाओं का समय भी तय कर किया गया है। अब यूपी के सभी मदरसों में एक ही समय पर एकसाथ कक्षाएं लगेंगी। इसके साथ-साथ मदरसों में मिलने वाले 92 दिन के अवकाश को घटाकर 86 दिन कर दिया गया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.