Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मध्यप्रदेश में सीएम पद के लिए कमलनाथ के नाम का एलान हो गया है। इसी के साथ मध्य प्रदेश में 15 साल का वनवास खत्म कर कांग्रेस एक बार फिर सरकार बनाने जा रही है। भोपाल में देर रात कांग्रेस विधायकों की बैठक हुई, जिसमें उन्हें नेता चुन लिया गया।

इसी के साथ कमलनाथ के नाम एक और उपलब्धि जुड़ गई है। कमलनाथ ने दौलत के मामले में देश के सबसे अमीर मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को पीछे छोड़ दिया है। यानी कमलनाथ अब देश के सबसे अमीर मुख्‍यमंत्री बन गए हैं।

2014 के लोकसभा चुनाव में कमलनाथ ने चुनाव आयोग को हलफनामे में अपनी संपत्ति का जो ब्योरा दिया था उसके मुताबिक पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ के पास कुल 206 करोड़ रुपये की संपत्ति है। हालांकि हलफनामे में बताया गया है कि उनके पास 5 करोड़ रुपये का कर्ज भी है।

कमलनाथ के पास 2 गाड़ियां हैं, जिनमें से एक दिल्ली में रजिस्टर्ड एम्बेसडर कार है और एक मध्य प्रदेश नंबर प्लेट वाली सफारी स्टॉर्म एसयूवी है। इन गाड़ियों की कुल कीमत 19 लाख रुपये बताई गई है। इसके पहले सितंबर, 2011 में 273 करोड़ रुपये की संपत्ति के साथ उन्हें देश का सबसे अमीर कैबिनेट मंत्री भी माना गया था।

2018 की एडीआर (एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश के मुख्यमंत्रियों में सबसे ज्यादा अमीर आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू थे। नायडू के पास कुल 177 करोड़ रुपये की संपत्ति है।

वहीं दूसरे नंबर पर अरुणाचल प्रदेश प्रदेश के सीएम प्रेम खांडू रहे। प्रेम खांडू के पास 129.57 करोड़ रुपये की संपत्ति है। हालांकि कमलनाथ के सीएम बनने के बाद संपत्ति के मामले में खांडू की रैंकिंग तीन हो जाएगी।

कमलनाथ के सीएम बनने पर शुरु हुआ विरोध

वही कांग्रेस नेता कमलनाथ को मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर अकाली दल और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने आपत्ति जताई है। अकाली दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं कमेटी के महासचिव मनजिंद्र सिंह सिरसा ने आरोप लगाया कि कमलनाथ का नवंबर 84 दंगों में हाथ है और यदि उनको मुख्यमंत्री बनाया गया तो सिख समुदाय कांग्रेस के खिलाफ प्रदर्शन करेगा।

रकाबगंज गुरुद्वारे में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सिरसा के अलावा कमेटी सदस्य अवतार सिंह ने कहा कि कमलनाथ रकाबगंज गुरुद्वारे के सामने भीड़ को उकसाया था जिस कारण भीड़ ने गुरुद्वारे में घुसकर कई सिखों की हत्या कर दी थी। सिरसा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी कमलनाथ को मध्यप्रदेश को मुख्यमंत्री बनाने जा रही है। कांग्रेस के इस कदम से स्पष्ट हो गया है कि वह जगदीश टाइटलर व सज्जन कुमार की तरह कमलनाथ को भी क्लीन चिट दे रही है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.