Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

गुजरात विधानसभा चुनाव ज्यादा दूर नहीं है। ऐसे में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही अपनी पैठ मजबूत करने में लगे हैं। राहुल के बाद अब पीएम मोदी ने गुजरात के जमीं पर हल्ला बोला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को गांधीनगर में ‘गुजरात गौरव महासम्मेलन’ को संबोधित किया। भारी भीड़ के बीच पीएम मोदी ने कांग्रेस पर खूब तीखे तंज कसे। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में चुनाव एक यज्ञ होता है। लेकिन हम सतयुग से देखते आए हैं कि जब-जब यज्ञ होता है तो रुकावट डालने वाले आ जाते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने विकास के मुद्दे पर कभी चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं दिखाई।

पीएम मोदी ने गुजरात की भारी भीड़ के सामने कांग्रेस पर कई आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि जो पार्टी इतने सालों तक सत्ता में रही, जिस पार्टी ने एक परिवार से इतने नेता दिए, उस पार्टी की भाषा इतनी नीचे गिर सकती है, यह मैंने कभी सोचा नहीं था। उन्होंने कहा कि मैंने बहुत सरकारें देखी हैं, धनबल और बाहुबल से चलने वाली पार्टियां, वंशवाद से चलने वाली पार्टियां भी देखी हैं, लेकिन लोकतांत्रिक तरीके से चलने वाली भाजपा इकलौती पार्टी है। कांग्रेस पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ये कांग्रेस पार्टी विकास के मुद्दे पर हमेशा भागती रही है। जिस पार्टी का मुखिया, परिवार भ्रष्टाचारी हो, जमानत पर छूटे हुए हो, ये लोग गुजरात का भला करेंगे?।

पीएम मोदी ने कहा कि वह 8 नवंबर को भ्रष्टाचार मुक्ति दिवस मनाएंगे जबकि कांग्रेस ब्लैक मनी डे मनाएगी। पीएम ने कांग्रेस के ‘विकास पागल हो गया है’ कैंपेन पर भी जमकर पलटवार किया। मोदी ने कहा कि कांग्रेस विकास नहीं कर पाई तो उससे नफरत करना शुरू दिया है। उन्होंने कहा कि यह पार्टी जमानती पार्टी है। इस पार्टी (कांग्रेस) और परिवार की नजर में गुजरात हमेशा खटकता रहा। उन्होंने कहा कि जनसंघ जब बालक था तब उस समय भी कांग्रेस उससे डरती थी और आज जब वो पूर्ण यौवन में है तो कांग्रेस का और ज्यादा कांपना स्वाभाविक है। मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने कभी विकास के मुद्दे पर चुनाव नहीं लड़ा। हमेशा सांप्रदायिकता, जाति-धर्म और भ्रमित करके ही चुनाव जीते हैं।

कांग्रेस पर आरोप लगाने के अलावा पीएम मोदी ने भाजपा की नीतियों को भी गिनाया। उन्होंने गुजराती में ही जीएसटी के फायदे गिनवाए। बता दें कि महात्मा गांधी के जन्मदिन पर बीजेपी ने गुजरात गौरव यात्रा की शुरुआत की थी। कई दिग्गज नेताओं ने रैली में भाग लिया। 15 दिनों तक चली ये यात्रा गुजरात की 182 में से 149 विधानसभा सीटों से होकर गुज़री। यात्रा की पंचलाइन ‘हूं विकास छू, हूं गुजरात छू’  रही।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.