Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैय्यद वसीम रिजवी ने आरोप लगाया है कि आंतकी संगठन आईएसआईएस मुसलमान गरीब बच्चों को आतंकी बनाने के लिये मदरसों का इस्तेमाल कर रही है। रिजवी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भेजे गये पत्र में कहा है कि यदि प्राथमिक मदरसे बंद नहीं हुये तो आने वाले 15 साल के बाद देश के आधे से ज्यादा मुसलमान आईएसआईएस की विचारधारा का समर्थक हो जायेंगे।

उन्होंने कहा,” मदरसे मुसलमानों को सामाजिक शिक्षा से दूर कर रहे हैं।  देवबंद और वहाबी मदरसे, मुसलमान बच्चों में इस्लाम का गलत प्रचार करके जेहाद के लिए तैयार कर रहे हैं।  कट्टरपंथी मानसिकता उनके जेहनों में भरी जा रही है। ”

उन्होंने कहा,” अगर ऐसा ही चलता रहा तो अगले 15 साल में देश का आधे से ज्यादा मुसलमान ISIS विचारधारा का समर्थक होगा।  इन्हीं देवबंद और वहाबी मदरसों से देश में जेहाद की लड़ाई शुरु होगी।  हमको अपने बच्चों ने इनसे बचाना होगा। “रिजवी ने कहा,” हमने भारत के प्रधानमंत्री को पत्र लिख कर कहा है कि हिन्दुस्तान में प्राइमरी मदरसों को बंद किया जाए।  अगर कोई बच्चा मदरसे में दीनी पढ़ाई करना चाहता है तो उसे हाईस्कूल के बाद ही प्रवेश दिया जाए। ”

वसीम रिजवी ने कहा,”इससे मुसलमान समाज दूसरे धर्मों के खिलाफ फैलाई जाने वाली नफरतों से अलग हो पाएगा।  साथ ही बच्चा खुद फैसला करेगा कि उसे मदरसे में पढ़ना है या नहीं।  उन्हें बचपन से मदरसे में पढ़ा कर उनकी सामाजिक जिंदगी खराब की जा रही है। ”

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.